scorecardresearch
 

पूर्वी लद्दाखः चीनी सेना ने की फायरिंग तो भारत की ओर से मिला माकूल जवाब

भारत-चीन के बीच जारी तनावपूर्ण स्थिति के बीच दोनों ओर से फायरिंग की यह पहली घटना नहीं है. इससे पहले 31 अगस्त को भी दोनों ओर से फायरिंग हुई थी. तब चीनी सैनिकों ने दक्षिण पैंगोंग में टॉप पर भारतीय क्षेत्रों में पहुंचने और उसे कब्जाने की कोशिश की थी.

लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है (पीटीआई) लद्दाख में भारत और चीन के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई है (पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दोनों पक्षों की ओर से की गई फायरिंग
  • सूत्रों का दावा- अब स्थिति नियंत्रण में
  • 31 अगस्त को भी दोनों ओर से हुई थी फायरिंग

वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर फिर से तनाव की स्थिति बन गई है. पूर्वी लद्दाख सेक्टर में भारत और चीनी सैनिकों के बीच फायरिंग की ताजा घटना हुई है. सूत्रों का कहना है कि चीन की ओर से फायरिंग की गई जिसके बाद भारतीय सैनिकों ने माकूल जवाब दिया. फिलहाल स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है.

सरकार से जुड़े शीर्ष सूत्रों का कहना है कि चीन की ओर से भारतीय क्षेत्र में फायरिंग की गई जिसके बाद भारतीय सैनिकों ने जवाबी कार्रवाई की. कुछ देर तक दोनों पक्षों की ओर से फायरिंग जारी रही. लेकिन अब स्थिति नियंत्रण में बताई जा रही है.

दोनों देशों के बीच जारी तनावपूर्ण स्थिति के बीच दोनों ओर से फायरिंग की यह पहली घटना नहीं है. इससे पहले 31 अगस्त को भी दोनों ओर से फायरिंग हुई थी. तब चीनी सैनिकों ने दक्षिण पैंगोंग में टॉप पर भारतीय क्षेत्रों में पहुंचने और उसे कब्जाने की कोशिश की थी, जिस दौरान फायरिंग की छोटी सी घटना हुई थी. हालांकि यह फायरिंग भी वार्निंग शॉट्स की तरह था. आक्रामक गोलीबारी नहीं थी.

वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) के पास भारत और चीन के बीच लंबे समय से तनाव बना हुआ है और दोनों ओर से सैन्य तथा कूटनीतिक स्तर पर स्थिति को सामान्य करने की कोशिश की जा रही है.

वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास फिर से यह तनावपूर्ण स्थिति उस समय बनी है जब विदेश मंत्री एस जयशंकर को एससीओ की बैठक में शामिल होने के लिए मॉस्को का दौरा करने वाले हैं और वहां पर अपने चीनी विदेश मंत्री वांग यी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे. इससे पहले रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मॉस्को में चीनी रक्षा मंत्री से मुलाकात कर चुके हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें