scorecardresearch
 

हाथरस केस पर नहीं होनी चाहिए राजनीति, दोषियों को मिले फांसी की सजा- अठावले

हाथरस गैंगरेप केस पर केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास अठावले ने कहा कि विपक्षी पार्टियां हाथरस केस को लेकर जिस तरीके से दलित का मुद्दा बनाकर राजनीति कर रही हैं, वह उचित नहीं है क्योंकि सब की सरकार में दलितों पर अत्याचार हुए हैं. इस पर कोई पार्टी राजनीति ना करें.

केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास अठावले केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास अठावले
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दोषियों को मिले फांसी की सजा -अठावले
  • 'हाथरस के जिलाधिकारी पर भी हो कार्रवाई'
  • 'परिजनों के नारको टेस्ट पर CM योगी से बात करूंगा बात'

हाथरस गैंगरेप केस पर केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास अठावले ने कहा कि दोषियों को फांसी की सजा होनी चाहिए. साथ ही पीड़ित परिजनों को कथित तौर पर धमकी देने वाले जिलाधिकारी पर भी हो कार्रवाई होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि दलित का मुद्दा बनाकर हाथरस केस पर राजनीति नहीं होनी चाहिए, क्योंकि सबकी सरकार में दलितों पर अत्याचार हुआ है.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज शनिवार को रिपब्लिकन पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर केंद्रीय सामाजिक न्याय राज्यमंत्री रामदास अठावले ने योजना भवन में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और इस दौरान उन्होंने हाथरस की घटना के साथ-साथ बिहार में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव पर भी चर्चा की.

हाथरस केस पर केंद्रीय मंत्री अठावले ने कहा कि यह बेहद गंभीर और दुःखद घटना है. केंद्रीय मंत्री ने कहा, 'हाथरस में हुई घटना के बाद मैं खुद वहां जाने वाला था, लेकिन मुझे बताया गया कि वहां पर मिलने नहीं दिया जा रहा है. धारा 144 लागू की गई है. मैं समझता हूं कि दलित उत्पीड़न पर राजनीति नहीं होनी चाहिए.' हालांकि प्रशासन की ओर से आज शनिवार को 5 लोगों को पीड़िता से घर जाने की अनुमति दे दी गई है.

उन्होंने कहा, 'विपक्षी पार्टियां हाथरस केस को लेकर जिस तरीके से दलित का मुद्दा बनाकर राजनीति कर रही हैं, वह उचित नहीं है क्योंकि सब की सरकार में दलित अत्याचार हुए हैं. इस पर कोई पार्टी राजनीति ना करें.' 

राजस्थान क्यों नहीं गए राहुलः अठावले
कांग्रेस नेता राहुल गांधी के हाथरस जाने के प्रयास पर अठावले ने कहा कि राहुल गांधी हाथरस में हुई घटना पर तो जा रहे थे, लेकिन वह राजस्थान नहीं गए. अगर राहुल गांधी को पुलिस रोक रही थी तो उनको रुक जाना चाहिए था. अठावले ने आगे कहा कि दलित अत्याचार खत्म करने के लिए उच्च वर्ग के लोगों को दलितों को आगे बढ़ाना चाहिए.

उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हाथरस की घटना पर जो निर्णय लिया है, वह सही लिया है. उन्होंने मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित कर जांच बैठा दी है. वहीं फास्ट ट्रैक कोर्ट की भी घोषणा मुख्यमंत्री के तरफ से की गई है जो कि सही कदम है.

रिपब्लिकन पार्टी के अध्यक्ष अठावले ने हाथरस के जिलाधिकारी प्रवीण कुमार को लेकर कहा कि इस प्रकरण में डीएम हाथरस पर भी कार्रवाई होनी चाहिए. डीएम पीड़ित के परिजनों को अगर धमका रहे थे तो यह गलत था क्योंकि पीड़ित तो पहले से ही दुखों से घिरा हुआ है, उसे धमकाना और डराना जायज नहीं है. उन्होंने कहा कि अंतिम संस्कार में गड़बड़ी हुई है, जोकि एक गलती है.

'बिहार में करार नहीं हुआ तो 15 सीटों पर लड़ेंगे'
मामले से जुड़े सभी लोगों के नार्को टेस्ट पर जिक्र करते हुए कहा कि सभी का नार्को टेस्ट होना चाहिए लेकिन परिजनों के ऊपर जो नार्को टेस्ट होने का जिक्र हो रहा है, उसके लिए मैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात करूंगा. अठावले के अनुसार हाथरस कांड के दोषियों को फांसी की सजा मिलनी चाहिए.

बिहार विधानसभा चुनाव पर चर्चा करते हुए अठावले ने कहा कि एनडीए से हमारी गठबंधन को लेकर बात चल रही है. हम चाहते हैं कि हमें वहां पांच सीटें मिले. अगर ऐसा नहीं होता है, तो हम वहां 15 सीटों पर चुनाव लड़ेंगे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें