scorecardresearch
 

PM आवास योजना ग्रामीण: त्रिपुरा के 1.46 लाख लाभार्थियों को मोदी ने दी 700 करोड़ की पहली किस्त

प्रधानमंत्री मोदी त्रिपुरा के 1.47 लाख लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण (PMAY-G) की पहली किस्त जारी की. इस अवसर पर इन लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे 700 करोड़ रुपये से भी अधिक जमा किए गए

X
त्रिपुरा के लोगों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना की पहली किस्त दी गई त्रिपुरा के लोगों के लिए प्रधानमंत्री आवास योजना की पहली किस्त दी गई
स्टोरी हाइलाइट्स
  • प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण की पहली किस्त
  • त्रिपुरा के 1.47 लाख लाभार्थियों को मिला लाभ
  • लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे 700 करोड़ जमा

प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) रविवार को त्रिपुरा के 1.47 लाख लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण (PMAY-G) की पहली किस्त जारी की. इस अवसर पर इन लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे 700 करोड़ रुपये से भी अधिक जमा किए गए. इस दौरान लाभार्थियों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि डबल इंजन की सरकार राज्य के विकास में ईमानदारी से जुटी हुई है. 

पीएम मोदी ने कहा कि पहली किस्त ने त्रिपुरा के लोगों को भी नया हौसला दिया है. पीएम ने कहा, अब त्रिपुरा को गरीब बनाए रखने वाली, त्रिपुरा के लोगों को सुख-सुविधाओं से दूर रखने वाली सोच की त्रिपुरा में कोई जगह नहीं है. अब यहां डबल इंजन की सरकार पूरी ताकत से, पूरी ईमानदारी से राज्य के विकास में जुटी है.

पीएम मोदी ने कहा, पहले देश के उत्तरी और पश्चिमी हिस्सों से हमारी नदियां तो पूरब आती थीं, लेकिन विकास की गंगा यहां पहुंचने से पहले ही सिमट जाती थी. देश के समग्र विकास को टुकड़ों में देखा जाता था, सियासी चश्मे से देखा जाता था. इसलिए, हमारा पूर्वोत्तर खुद को उपेक्षित महसूस करता था. उन्होंने आगे कहा, आज देश के विकास को ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की भावना से देखा जाता है. विकास को अब देश की एकता-अखंडता का पर्याय माना जाता है.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुआ कार्यक्रम

प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से जारी किए गए एक बयान के मुताबिक, पीएम मोदी का यह कार्यक्रम दोपहर 1 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुआ.

इस बयान में कहा गया है कि त्रिपुरा की अनोखी भू-जलवायु स्थिति को ध्यान में रखते हुए, प्रधानमंत्री मोदी की पहल के बाद खासतौर पर इस राज्य के लिए, 'कच्चा' घर की परिभाषा बदल दी गई है. इसके तहत, बड़ी संख्या में कच्चे घरों में रहने वाले लाभार्थियों को 'पक्का' घर बनाने के लिए सहायता दी जा रही है. इन लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे 700 करोड़ रुपये से ज़्यादा की धनराशि जमा की जाएगी.

इस कार्यक्रम में केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री गिरिराज सिंह और त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब भी मौजूद रहे.

सशक्त होंगे राज्य के लोग

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट करके कहा कि त्रिपुरा के 1.47 लाख लाभार्थियों को प्रधानमंत्री आवास योजना- ग्रामीण (PMAY-G) की पहली किस्त दी जाएगी, जो राज्य के लोगों को सशक्त बनाने के की दिशा में एक बड़ा प्रोत्साहन होगा.

मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने PMAY-G के पहले ट्रांसफर के लिए प्रधानमंत्री का आभार जताया है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें