scorecardresearch
 

दिल्ली: किसानों का संसद मार्च कल, अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां

किसान संगठनों ने 22 जुलाई को संसद तक मार्च निकालने का ऐलान किया है. इस मार्च को देखते हुए दिल्ली में सभी इंटेलिजेंस एजेंसियां अलर्ट पर हैं.

किसान फिर निकालेंगे मार्च (फोटो: PTI) किसान फिर निकालेंगे मार्च (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 22 जुलाई को किसानों का संसद मार्च
  • अलर्ट पर सुरक्षा एजेंसियां

कृषि कानून के खिलाफ जारी किसानों के प्रदर्शन के बीच गुरुवार को संसद तक मार्च निकलना है. किसान संगठनों ने इसका ऐलान किया है. इस मार्च को देखते हुए दिल्ली में सभी इंटेलिजेंस एजेंसियां अलर्ट पर हैं.

इसी साल की शुरुआत में दिल्ली में किसानों के प्रदर्शन के दौरान 26 जनवरी को जमकर बवाल हुआ था. ऐसे में अब दिल्ली पुलिस अलर्ट पर है. इंटेलिजेंस रिपोर्ट में कहा गया है कि 22 जुलाई को किसान संगठन बड़े पैमाने पर प्रोटेस्ट कर सकते हैं, ऐसे में कानून व्यवस्था बिगड़ सकती है. 

अलर्ट के मुताबिक, आंदोलनकर्ता बड़ी संख्या में ट्रेन के जरिए दिल्ली आ सकते हैं. ऐसे में दिल्ली में भीड़ बढ़ सकती है, इसलिए दिल्ली पुलिस समेत अन्य एजेंसियों को अलर्ट पर रखा गया है. 

एक अन्य अलर्ट में कहा गया है कि खालिस्तानी संगठन सिख फ़ॉर जस्टिस के जनरल काउंसिल गुरपुतवंत सिंह पन्नू ने सोशल मीडिया पर कई वीडियो अपलोड कर 22 जुलाई को संसद पर बवाल बचाने के लिए भड़काया है. पन्नू ने अपने मैसेज में पंजाब के नौजवानों को दिल्ली कुछ करने को कहा है. ऐसे में इस संदेश को देखते हुए भी दिल्ली पुलिस और अन्य एजेंसियां अलर्ट पर हैं.

गौरतलब है कि किसान संगठनों द्वारा 22 जुलाई को संसद तक मार्च करने का आह्वान किया गया है. ऐसे में बड़ी संख्या में किसानों द्वारा संसद का रुख किया जा सकता है, ये तब हो रहा है जब अभी संसद का मॉनसून सत्र चल रहा है. 

इसी साल के शुरुआत में किसानों ने 26 जनवरी को जब दिल्ली में प्रदर्शन किया था, तब काफी बवाल हुआ था. लालकिले से लेकर दिल्ली की अलग-अलग सड़कों पर प्रदर्शनकारियों ने बवाल किया था. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें