scorecardresearch
 

दिल्ली हिंसा पर किसान नेता ने मांगी माफी, बोले- हम शर्मिंदा, 30 को रखेंगे उपवास

गणतंत्र दिवस के दौरान निकली ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा पर किसान नेता युद्धवीर सिंह ने माफी मांगी है. युद्धवीर ने कहा कि हिंसा के लिए वो सभी शर्मिंदा हैं.

ट्रैक्टर परेड के बीच दिल्ली की सड़कों पर हुआ था उत्पात (पीटीआई) ट्रैक्टर परेड के बीच दिल्ली की सड़कों पर हुआ था उत्पात (पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा को लेकर किसान नेता का बयान
  • हम शर्मिंदा हैं और पुलिस से माफी मांगते हैं: युद्धवीर

ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा को लेकर किसान संगठन लगातार बैकफुट पर हैं. गुरुवार को किसान नेता युद्धवीर सिंह ने हिंसा को लेकर दिल्ली पुलिस से माफी मांगी और कहा कि वो इसके कारण काफी शर्मिंदा हैं.

गुरुवार को आजतक पर चर्चा के दौरान किसान नेता युद्धवीर सिंह ने बयान दिया है कि जो दो संगठन आंदोलन से अलग हुए हैं, वो पहले से ही संयुक्त किसान मोर्चा का हिस्सा नहीं थे. पहले भी दोनों संगठन आंदोलन से हटे थे, लेकिन उनके इलाकों से जब दबाव बना तब वापस आंदोलन से जुड़ गए थे.

किसान नेता युद्धवीर सिंह बोले कि गणतंत्र दिवस के दिन जो हुआ, वो शर्मनाक हुआ और हम शर्मिंदा भी हैं. कोई भी आंदोलन तभी सफल होता है, जब दोनों ओर से सहयोग हो. युद्धवीर सिंह ने बताया कि मैं गाजीपुर बॉर्डर के पास था, जो उपद्रवी वहां घुसे उसमें हमारे लोग शामिल नहीं थे.

देखें: आजतक LIVE TV


किसान नेता बोले कि हम हिंसा को लेकर निंदा भी कर रहे हैं और इसके प्रायश्चित के लिए 30 जनवरी को एक दिवसीय उपवास भी करेंगे. दिल्ली पुलिस में भी हमारे ही भाई हैं, ऐसे में उनके साथ जिस तरह का बर्ताव हुआ हम दिल्ली पुलिस के जवानों से माफी मांगते हैं.

आपको बता दें कि इससे पहले संयुक्त किसान मोर्चा की प्रेस कॉन्फ्रेंस में शिव कुमार कक्का ने भी कहा था कि किसान आंदोलन में ट्रैक्टर परेड के दौरान कुछ उपद्रवी घुस आए थे, जिनपर नजर रखनी चाहिए थी. लेकिन किसान संगठनों ने उस मोर्चे पर चूक हुई है.

ट्रैक्टर परेड में हुई हिंसा के बाद ही किसान संगठनों ने अब एक फरवरी को निकलने वाले संसद मार्च को रद्द कर दिया है, जबकि 30 जनवरी को उपवास रखने की बात कही है. दिल्ली पुलिस हिंसा को लेकर लगातार एक्शन ले रही है और अबतक दर्जनों एफआईआर दर्ज की जा चुकी हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें