scorecardresearch
 

इजरायली दूतावास धमाका: दो संदिग्धों की तस्वीर जारी, NIA ने घोषित किया 10 लाख का इनाम

29 जनवरी 2021 को इजरायली दूतावास के बाहर IED ब्लास्ट हुआ था. इस तस्वीर में दो संदिग्ध बम प्लांट करते नजर आ रहे हैं. इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) कर रही है.

इजरायली दूतावास के बाहर हुए धमाके में शामिल दो संदिग्धों की तस्वीर सामने आई है. इजरायली दूतावास के बाहर हुए धमाके में शामिल दो संदिग्धों की तस्वीर सामने आई है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • तस्वीर में दो संदिग्धों ने चेहरे पर मास्क लगा रखा है
  • इस साल 29 जनवरी को हुआ था धमाका
  • इजरायल ने बताया था इसे आतंकी हमला

देश की राजधानी दिल्ली में कुछ महीने पहले इजरायल एम्बेसी के पास हुए ब्लास्ट में शामिल दो संदिग्धों की तस्वीर सामने आई है. इस साल की शुरुआत में इजरायली एम्बेसी के बाहर ब्लास्ट करने वाले दो संदिग्धों की तस्वीरें इंडिया टुडे/आजतक को मिली है. सीसीटीवी फुटेज के जरिए ये तस्वीरें सामने आई हैं. एनआईए ने इन दोनों की गिरफ्तारी के संबंध में जानकारी देने वालों के लिए 10-10 लाख का इनाम भी घोषित किया है.

तस्वीर में दो संदिग्ध नजर आ रहे हैं. दोनों ने चेहरे पर मास्क लगाया हुआ था. 29 जनवरी 2021 को इजरायली दूतावास के बाहर IED ब्लास्ट हुआ था. इस तस्वीर में दो संदिग्ध बम प्लांट करते नजर आ रहे हैं. इस मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) कर रही है. इस मामले की जांच पहले स्पेशल सेल कर रही थी जिसके बाद केस  NIA को ट्रांसफर कर दिया गया था. ब्लास्ट से जुड़ी रिपोर्ट रोहणी FSL ने NIA को सौंप दी है. जिसमें बताया गया है कि यह ब्लास्ट लो इंटेंसिटी का था.

आईपीसी की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. इस मामले में दो लोगों की गिरफ्तारी भी की गई है. स्पेशल सेल ने ही एम्बेसी के आसपास और रूट्स के कई CCTV की फुटेज खंगाली थी जिसमें यह चेहरे कैद हुए थे. बता दें कि इजरायल की ओर से नई दिल्ली स्थित इजरायली दूतावास के पास हुए धमाके को आतंकी हमला करार दिया गया था.

इसपर भी क्लिक करें- दिल्ली धमाका: फ्लॉवर पॉट में रखा था विस्फोटक, CCTV फुटेज की जांच में जुटीं एजेंसियां
 
बता दें कि 29 जनवरी को भारत और इजरायल की कूटनीतिक दोस्ती के 29 साल पूरे हुए थे. 29 तारीख को ही बीटिंग रिट्रीट भी था, और धमाके का टाइम 5.05 मिनट था. यह वह समय था जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बीटिंग रिट्रीट सेरेमनी के लिए विजय चौक पहुंच रहे थे. कहा गया था कि ये एक तरीके का बड़ा पैनिक फैलाने का प्लान था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें