scorecardresearch
 

Dussehra 2021: दिल्ली में शाम 6 बजे तो लखनऊ में रात 8 बजे, जानिए आपके शहर में कब होगा रावण दहन

देशभर में दशहरे की खूब रौनक है. इस साल 15 अक्टूबर को दशहरे का त्योहार मनाया जा रहा है. कोरोना महामारी के बीच मनाए जा रहे दशहरे के लिए तैयारियां लगभग पूरी हो गई हैं.

रावण दहन रावण दहन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 15 अक्टूबर को दशहरे का त्योहार मनाया जा रहा
  • दिल्ली में रावण दहन का कार्यक्रम शाम छह बजे रखा गया

देशभर में दशहरे की खूब रौनक है. इस साल 15 अक्टूबर को दशहरे का त्योहार मनाया जा रहा है. कोरोना महामारी के बीच मनाए जा रहे दशहरे के लिए तैयारियां लगभग पूरी हो गई हैं. दिल्ली, लखनऊ, कानपुर समेत कई शहरों में दशहरा बड़े धूमधाम से मनाया जाएगा तो वहीं, मुंबई में इस बार कोई बड़ा कार्यक्रम नहीं आयोजित किया गया है. दिल्ली में रावण दहन का कार्यक्रम शाम छह बजे रखा गया है, जबकि लखनऊ में यह समय रात आठ बजे है. वहीं, कानपुर में नौ से रात साढ़े नौ बजे के बीच रावण दहन का कार्यक्रम होगा. 

दिल्ली के रामलीला मैदान में होने वाले कार्यक्रम में रावण की ऊंचाई को कम कर दिया गया है. पहले जहां डेढ़ सौ फीट का रावण बनाया जाता था तो अब इसकी लंबाई को कम कर दिया गया है. अब यह सिर्फ 50 फीट का ही बनाया जा रहा है. इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को बनाया गया है. दशहरे समिति का नाम लव-कुश रामलीला समिति है. जानिए, किस शहर में कब होगा रावण दहन...

लखनऊ
रावण दहन का समय- रात 8 बजे
कार्यक्रम का स्थान- ऐशबाग रामलीला मैदान
रावण की ऊंचाई (पहले से घटी या बढ़ी)- अब 80 फीट का बनाया गया है, जबकि पहले 121 फीट का होता था.
मुख्य अतिथि का नाम- डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा 
दशहरा समिति का नाम- राम लीला सिमिति ऐशबाग

कानपुर 
रावण दहन का समय- रात नौ से साढ़े नौ के बीच
कार्यक्रम का स्थान- परेड रामलीला ग्राउंड कानपुर
रावण की ऊंचाई : 90 फीट
मुख्य अतिथि का नाम- बीजेपी सांसद सत्यदेव पचौरी
दशहरा समिति का नाम- श्री रामलीला सोसाइटी परेड रजिस्ट्रर्ड

वाराणसी, मुंबई और अहमदाबाद के बारे में जानें
वाराणसी में विद्यापीठ और दूसरा बनारस लोकोमोटिव वर्कशॉप पर पुतला दहन हुआ करता था. लेकिन कोविड-19 के चलते इस बार भी नहीं आयोजित हो रहा है. अहमदाबाद में कोरोना गाइडलाइन के चलते रावण दहन के लिए कहीं बड़े सार्वजनिक स्थल पर करने की अनुमति नहीं है. हालांकि सोसायटी छोटे स्तर पर गरबा की तरह रावण दहन करना चाहें तो कर सकती हैं, लेकिन कोविड गाइडलाइन का पालन सख्ती से करना होगा. इसके अलावा, मुंबई में भी कोई बड़ा कार्यक्रम आयोजित नहीं किया जा रहा है. इसके अलावा, ग्वालियर में भी इस बार कहीं भी रावण दहन नहीं हो रहा है. कोविड की वजह से रावण दहन के कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाएंगे.

अयोध्या 
रावण दहन का समय- शाम 5.30 बजे 
कार्यक्रम का स्थान- लक्षमण किला 
दशहरा समिति का नाम- अयोध्या की रामलीला 

इंदौर
रावण दहन का समय- शाम  7:30 बजे
कार्यक्रम का स्थान- दशहरा मैदान
रावण की ऊंचाई (पहले से घटी या बढ़ी)- 111  फिट- हमेशा यही ऊंचाई रहती है
दशहरा समिति का नाम- दशहरा महाउत्सव समिति

पटना
कार्यक्रम स्थल : कालिदास रंगालय
रावण वध का समय: 4: 30 से 5:30
रावण की ऊंचाई- पहले 50 फीट से ऊंचा होता था, लेकिन इस बार 15 फीट का रावण होगा.
दशहरा समिति का नाम: श्री दशहरा कमिटी ट्रस्ट

रायपुर 
रावण दहन का समय- रावण दहन का समय 6 बजे. डब्ल्यू आर एस कॉलोनी रायपुर.
कार्यक्रम का स्थान- डब्ल्यू आर एस कॉलोनी रायपुर.
रावण की ऊंचाई (पहले से घटी या बढ़ी)-  रावण की ऊंचाई पहले से घट गई. 100 से 51 फीट हो गई है. 
मुख्य अतिथि का नाम- मुख्यमंत्री भूपेश बघेल. 
दशहरा समिति का नाम- डब्ल्यू आर एस दशहरा समिति.

अमृतसर 
रावण दहन का समय- शाम 7.30 
कार्यक्रम का स्थान- रंजीत अवेनुए
रावण की ऊंचाई (पहले से घटी या बढ़ी)- 100 फीट के करीब
मुख्य अतिथि का नाम- पूर्व डिप्टी सीएम और अकाली दल नेता सुखबीर बादल, बिक्रम मजीठिया और अनिल जोशी 
दशहरा समिति का नाम- अमृतसर नार्थ

गुरुग्राम 
रावण दहन का समय- तकरीबन साढ़े 6 बजे शाम 
कार्यक्रम का स्थान-सेंटर ग्राउंड न्यू कालोनी गुरुग्राम
रावण की ऊंचाई- 65 फीट रावण, 60 फीट कुंभकर्ण, 55 फीट मेघनाथ
दशहरा समिति का नाम-गीता भवन सनातन धर्म सभा

मध्य प्रदेश
वहीं, रावण दहन के लिए कलेक्टर से इजाजत लेनी होगी. मध्य प्रदेश में शासन की तरफ से दशहरे को लेकर कुछ दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. जिसके तहत रावण दहन के पूर्व होने वाले श्रीराम के समारोह को प्रतीकात्मक रूप से निकालने की अनुमति दी गई है. रावण दहन के लिए मैदान में क्षमता के 50% लोगों को ही आने की अनुमति रहेगी. लोगों को बिना मास्क के आने की अनुमति नहीं होगी.
बिना मास्क आने की अनुमति नहीं रहेगी

भोपाल 
रावण दहन का समय- 7 बजे 
कार्यक्रम का स्थान- छोला, बिट्टन मार्केट, टीटी नगर
रावण की ऊंचाई (पहले से घटी या बढ़ी)- पहले इन जगहों पर 101 फीट के रावण जलते थे, लेकिन इस साल 51 फीट के रावण जलाए जाएंगे.

मुख्य अतिथि का नाम- स्थानीय नेता ही मुख्य अतिथि रहेंगे क्योंकि उपचुनाव के चलते मंत्रियों की ड्यूटी विधानसभा उपचुनाव में लगाई हुई है. आयोजक फिर भी कोई बड़े नेता को अपने यहां बुलाने की कोशिश में हैं.

दशहरा समिति का नाम- 
छोला हिन्दू उत्सव समिति, बिट्टन मार्केट दशहरा समिति.

इनपुट - रवीश पाल सिंह (भोपाल) , नीरज वशिष्ठ ( गुरुग्राम , रोहित कुमार सिंह ( पटना), अमित शर्मा (अमृतसर ), रंजय सिंह ( कानपुर), बनबीर ( अयोध्या), गोपी घांघर ( अहमदाबाद ), महेंद्र नामदेव ( रायपुर), धर्मेन्द्र (इंदौर).

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें