scorecardresearch
 

भारत यात्रा से पहले क्या ट्रंप का हुआ था कोरोना टेस्ट? संसद में विदेश मंत्रालय ने बताया

फरवरी में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत का दौरा किया था. तब इसकी काफी चर्चा थी, इसी यात्रा को लेकर राज्यसभा में सवाल पूछा गया.

इसी साल भारत आए थे डोनाल्ड ट्रंप इसी साल भारत आए थे डोनाल्ड ट्रंप
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ट्रंप की भारत यात्रा पर संसद में सवाल
  • क्या हुआ था कोरोना टेस्ट: बिनोय विस्वम

राज्यसभा भले ही पिछले दो दिनों से हंगामे के कारण चर्चा में हो, लेकिन सवाल-जवाब का सिलसिला अभी भी जारी है. राज्यसभा सांसद बिनोय विस्वम ने सदन में विदेश मंत्रालय ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के दौरे और कोरोना संकट को लेकर सवाल पूछा.

सांसद ने पूछा कि क्या भारत दौरे पर आने से पहले अमेरिकी राष्ट्रपति और उनके स्टाफ का कोविड टेस्ट हुआ था. इसपर विदेश मंत्रालय ने लिखित जवाब दिया है कि उस वक्त कोरोना वायरस टेस्ट की आवश्यकता नहीं थी. 

विदेश मंत्रालय की ओर से जानकारी दी गई है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप 24-25 फरवरी को भारत आए थे, लेकिन विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 11 मार्च को कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया था. ऐसे में तब टेस्ट की जरूरत नहीं थी. 

साथ ही विदेश मंत्रालय ने कहा कि उनकी यात्रा की दौरान अन्य मानकों और प्रोटोकॉल का पालन किया गया था. आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति की भारत यात्रा काफी चर्चा का विषय बनी थी. विपक्ष की ओर से आरोप लगाया गया कि सरकार ट्रंप के स्वागत में लगी रही और देश में कोरोना फैल गया.  

विदेश मंत्रालय की ओर से ये भी जानकारी दी गई है कि कोरोना काल में भारत ने करीब 150 देशों की मदद की है. इसमें कई देशों को दवाईयां और मेडिकल उपकरण देने का काम किया गया है. 

विदेश मंत्रालय के अनुसार, चीन समेत कुल 80 देशों को 80 करोड़ रुपये का सहायता अनुदान दिया गया. वहीं भारत को जापान, फ्रांस, अमेरिका, जर्मनी, इजरायल से सहायता मिली है.

सवाल में पांच साल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की यात्राओं की जानकारी का भी ब्यौरा मांगा गया. मंत्रालय के अनुसार, 2015 से अबतक पीएम मोदी ने 58 देशों की यात्रा की है, इन दौरों पर 517 करोड़ रुपये खर्च हुए हैं. पीएम मोदी के दौरोँ से देश के व्यापार-निवेश-रक्षा सहयोग मजबूत हुए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें