scorecardresearch
 

JEE-NEET को टालने के लिए सड़क पर उतरी NSUI, अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल शुरू

कोरोना काल में JEE और NEET परीक्षा पर संग्राम जारी है. मोदी सरकार इन दोनों परीक्षाओं को तय समय पर कराने की जिद पर अड़ी है तो परीक्षा को टालने के लिए कांग्रेस सड़क पर उतर आई है.

भूख हड़ताल पर बैठे NSUI कार्यकर्ता भूख हड़ताल पर बैठे NSUI कार्यकर्ता
स्टोरी हाइलाइट्स
  • JEE-NEET को टालने की मांग
  • सड़क पर उतरी NSUI
  • शास्त्री भवन पर भूख हड़ताल शुरू

कोरोना काल में JEE और NEET परीक्षा पर संग्राम जारी है. मोदी सरकार इन दोनों परीक्षाओं को तय समय पर कराने की जिद पर अड़ी है तो परीक्षा को टालने के लिए कांग्रेस सड़क पर उतर आई है. दिल्ली स्थित शास्त्री भवन के बाहर एनएसयूआई के कार्यकर्ता अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल पर बैठ गए हैं. 

गौरतलब है कि जीएसटी, NEET और JEE परीक्षा के मुद्दे पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी आज कांग्रेस शासित प्रदेशों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करेंगी. इस वर्चुअल मीटिंग में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे भी होंगे. 

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने मंगलवार को पुष्टि की कि NEET और JEE परीक्षा स्थगित नहीं की जाएगी और निर्धारित समय पर होगी. एनटीए अधिकारियों ने कहा कि JEE और NEET परीक्षा सितंबर में आयोजित की जाएंगी. JEE की परीक्षा 1 से 6 सितंबर तक होगी, तो वहीं NEET की परीक्षा 13 सितंबर को होगी.

इस बीच शिक्षामंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने एक इंटरव्यू में कहा, 'हमारे लिए छात्रों की सुरक्षा सबसे अधिक महत्वपूर्ण है. छात्रों को ट्रैवल में किसी भी प्रकार की परेशानी न आए, इसके लिए NTA ने ऑप्शनल परीक्षा केंद्र दिए हैं. हमने ऐसी व्यवस्था की है कि हर केंद्र पर लगभग 100 से 150 छात्र होंगे.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें