scorecardresearch
 

Cyclone Yaas Updates: चक्रवाती तूफान 'यास' का खतरा, पश्चिम बंगाल-ओडिशा में अलर्ट जारी

चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) 26 मई की शाम को पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है. Cyclone Yaas के खतरे को देखते हुए ओडिशा सरकार ने तटीय जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है.

Cyclone Yaas Alert in Odisha and West Bengal coasts (फाइल फोटो-PTI) Cyclone Yaas Alert in Odisha and West Bengal coasts (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ओडिशा-पश्चिम बंगाल में चक्रवाती तूफान का अलर्ट
  • आंध्र प्रदेश-तमिलनाडु में भी मौसम विभाग का अलर्ट
  • 26 मई को तटीय इलाकों से टकराने की उम्मीद

Cyclone Yaas Latest Updates: चक्रवाती तूफान तौकते के बाद अब देश के पूर्वी तटीय क्षेत्रों में साइक्लोन यास (Cyclone Yaas) का खतरा मंडरा रहा है. बंगाल की खाड़ी में उठने वाला चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में दस्तक दे सकता है. मौसम विभाग (IMD) ने आज (22 मई) बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर बनने और 24 मई तक इसके साइक्लोन में तब्दील होने का अनुमान जताया है.

मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक साइक्लोन में तबदील होकर ये उत्तर पश्चिम दिशा की ओर बढ़ सकता है. चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) 26 मई की शाम को पश्चिम बंगाल-ओडिशा के तटों तक पहुंच सकता है. चक्रवाती तूफान यास के खतरे को देखते हुए ओडिशा सरकार ने तटीय जिलों में हाई अलर्ट जारी कर दिया है. साथ ही इससे निपटने के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में  टीमों की तैनाती शुरू कर दी है. 

भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के अनुसार तूफान यास 22 मई को उत्तरी अंडमान सागर और आसपास की पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. जिसके आगामी दो दिन में धीरे-धीरे चक्रवाती तूफान (Cyclonic Storm) में बदलने की आशंका है. 

तटीय इलाकों में NDRF ने टीमें तैनात
चक्रवाती तूफान यास (Cyclone Yaas) से निपटने के लिए NDRF ने कमर कस ली है. एनडीआरएफ महानिदेशक एसएन प्रधान के मुताबिक पश्चिम बंगाल और ओडिशा में संभावित खतरे वाले क्षेत्रों में टीमें तैनात करना शुरू कर दिया गया है. तूफान यास 26 मई को तट से टकरा सकता है.

केंद्र ने राज्यों को दिए दिशा निर्देश
केंद्र सरकार ने आंध्र प्रदेश, ओडिशा, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और अंडमान निकोबार द्वीप समूह को ये सुनिश्चित करने को कहा है कि स्वास्थ्य केंद्रों पर आवश्यक दवाओं तथा संसाधनों का स्टॉक रखा जाए. जिससे यास तूफान के दौरान किसी भी आपात स्थिति से निपटा जा सके.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें