scorecardresearch
 

Omicron Variant से भारत में अलर्ट! केंद्र ने लिखी चिट्ठी, राज्यों ने बुलाई मीटिंग, जानें सभी बड़े अपडेट्स

Covid New Variant Omicron: ओमीक्रॉन वेरिएंट से दुनियाभर में दहशत है. भारत में भी इसे लेकर अब अलर्ट है. केंद्र ने राज्य सरकारों को चिट्ठी लिखी है. केंद्र ने राज्यों को कई तरह के निर्देश जारी किए हैं.

X
एयरपोर्ट पर निगरानी बढ़ाने की सलाह दी गई है. (फाइल फोटो-PTI) एयरपोर्ट पर निगरानी बढ़ाने की सलाह दी गई है. (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ओमीक्रॉन वेरिएंट ने बढ़ाई चिंता
  • केंद्र ने राज्यों को लिखी चिट्ठी

Covid New Variant Omicron: कोरोना वायरस का नया वेरिएंट Omicron सामने आने से दुनियाभर में दहशत फैल गई है. दुनिया के कई देश अलर्ट पर हैं. इसी बीच भारत में भी ताबड़तोड़ बैठकों का दौर शुरू हो गया है. शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक की थी. रविवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने भी सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखकर सावधानी बरतने की सलाह दी है. केंद्र के अलावा राज्य सरकारें भी अलर्ट पर हैं. राज्य सरकारों ने कई तरह के आदेश जारी कर दिए हैं. 

Covid-19 का नया वेरिएंट B.1.1529 इसी हफ्ते दक्षिण अफ्रीका में पाया गया है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इसे शुक्रवार को 'वेरिएंट ऑफ कंसर्न' यानी चिंताजनक बताया है. इसे 'Omicron' नाम दिया गया है. इसे कोरोना के बाकी वेरिएंट से ज्यादा संक्रामक बताया जा रहा है.

केंद्र की राज्यों को सलाह, यात्रियों की स्क्रीनिंग हो, जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए सैंपल भेजे जाएं

- ओमीक्रॉन वेरिएंट से बढ़ती चिंता के बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखी है. इस चिट्ठी में 'रिस्क' वाले देशों से आने वाले यात्रियों की स्क्रीनिंग और 14 दिन के क्वारनटीन करने की सलाह दी गई है. 

-  इसके साथ ही 'हॉटस्पॉट' वाले इलाकों की निगरानी करने की सलाह भी दी गई है. हॉटस्पॉट इलाकों में मिलने वाले पॉजिटिव मरीजों के सैम्पल जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए INSACOG लैब भेजने को कहा गया है. 

- राज्यों को जल्द से जल्द हॉटस्पॉट इलाकों की पहचान करने की हिदायत दी गई है. साथ ही राज्यों को ज्यादा से ज्यादा टेस्टिंग करने और 5% से नीचे संक्रमण दर रखने की सलाह दी गई है.

ये भी पढ़ें-- कोरोना के नए वेरिएंट से दुनिया भर में दहशत, डेल्टा से कितना खतरनाक है Omicron?

हरियाणाः मुख्यमंत्री का निर्देश- किसी भी जमावड़े को अनुमति देने से पहले सतर्कता बरतें कमिश्नर

- मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बताया कि इससे निपटने की सारी तैयारियां हो गईं हैं. सभी जिला कमिश्नरों को निगरानी बढ़ाने के आदेश दिए गए हैं, साथ ही उन्हें किसी भी तरह के मेले या जमावड़े की मंजूरी देने से पहले भी सतर्कता बरतने को कहा गया है.

- गुरुग्राम में भी अलर्ट जारी कर दिया गया है और जिला स्वास्थ्य विभाग ने टास्क फोर्स का गठन कर दिया है. दक्षिण अफ्रीका, ब्राजील, बोत्सवाना, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड और मॉरिशस जैसे रिस्क कैटेगरी वाले देशों से आने वाले यात्रियों की एयरपोर्ट पर ही जांच हो. ऐसे यात्रियों का पहले दिन और 8वें दिन टेस्ट होगा. साथ ही रिस्क कंट्री से आने वाले लोगों को होम क्वारनटीन किया जाएगा.

दिल्ली: DDMA की बैठक बुलाई गई, सिसोदिया की अपील- भीड़भाड़ में जाने से बचें

- दिल्ली सरकार ने भी रविवार को डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी (DDMA) की बैठक बुलाई. डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा कि सभी विभागों को अलर्ट पर रखा गया है. उन्होंने बताया कि अभी कोई केस नहीं आया है, लेकिन ये मानकर चलना चाहिए कि नया वेरिएंट हमारे बीच में हैं. उन्होंने लोगों से भीड़भाड़ वाले इलाकों में जाने से बचने को कहा है.

- वहीं, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखी है. इसमें उन्होंने ओमीक्रॉन वेरिएंट से प्रभावित देशों से आने वाली फ्लाइट को तुरंत सस्पेंड करने की अपील की है. केजरीवाल ने कहा कि यूरोप समेत कई देशों ने प्रभावित देशों से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को रद्द कर दिया है, इसलिए भारत में भी इस नए वेरिएंट को घुसने से रोकने के लिए फ्लाइट रद्द हों.

बिहारः मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने की समीक्षा

- ओमीक्रॉन वेरिएंट को लेकर बिहार में भी दहशत बढ़ गई है. इसी को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने स्वास्थ्य विभाग के साथ समीक्षा बैठक की.

मध्य प्रदेशः सीएम ने की बैठक, फिर से 50% क्षमता से ही खुलेंगे स्कूल

- मध्य प्रदेश में भी नए वेरिएंट को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने एक अहम बैठक बुलाई थी. इस बैठक में कई फैसले लिए गए हैं. सरकार ने फिर से स्कूलों को 50 फीसदी क्षमता से ही खोलने के निर्देश दिए हैं. हाल ही में सरकार ने स्कूलों को 100 फीसदी क्षमता से खोलने की छूट दे दी थी. 

- इसके अलावा विदेशी यात्रियों पर केंद्र की गाइडलाइन लागू करने का आदेश भी दिया गया है. साथ ही 1 दिसंबर को सभी ऑक्सीजन प्लांट में मॉक ड्रील करने को भी कहा गया है ताकि ये पता चल सके कि प्लांट ठीक से काम कर रहे हैं या नहीं.

ये भी पढ़ें-- Covid new variant omicron: क्या HIV से आया है कोरोना का नया वैरिएंट? वैज्ञानिक के दावे से सनसनी

यूपीः विदेश से आने वालों को रहना होगा क्वारनटीन

- उत्तर प्रदेश में भी सतर्कता बढ़ा दी गई है. लखनऊ के सीएमओ मनोज अग्रवाल ने बताया कि विदेश से आने वाले यात्रियों को 10 दिन तक होम क्वारनटीन रहना होगा. दक्षिण अफ्रीका‚ हांगकांग, ब्राज़ील, बांग्लादेश, चीन, यूनाइटेड किंगडम, न्यूजीलैंड और बेल्जियम जैसे तमाम फॉरेन कंट्री से आने वाले लोगों पर एयरपोर्ट अथॉरिटी विशेष निगरानी रखेगी और हेल्थ डिपार्टमेंट को सूचित करेगी.

- उन्होंने आगे बताया कि स्क्रीनिंग कराते हुए एयरपोर्ट पर मौजूद रहने वाली स्वास्थ विभाग की टीम,आरटीपीसीआर टेस्ट करेगी और विदेश से आने वाले ट्रैवेलर्स को होम आइसोलेशन में 10 दिनों तक रखा जाएगा. अगर 10 दिनों के अंदर रिपोर्ट नेगेटिव नहीं आती है तो उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाएगा. इसके अलावा सभी 75 जिलों को अलर्ट पर रखा गया है.

कर्नाटकः प्रभावित देशों से आने वाले यात्रियों की होगी सख्त निगरानी

- कर्नाटक के बेंगलुरु में दक्षिण अफ्रीका से लौटे दो यात्री कोविड संक्रमित पाए गए. हालांकि, उनमें डेल्टा वेरिएंट की पुष्टि हुई है. लेकिन बेंगलुरु में अलर्ट जारी किया गया है. 

- प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. सुधाकर के. ने बताया कि नए वेरिएंट से प्रभावित दक्षिण अफ्रीका, हॉन्ग कॉन्ग, बोत्सवाना और अन्य यूरोपीय देशों से आने वाले यात्रियों की एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग होगी और सख्त निगरानी की जाएगी.

उत्तराखंडः सभी कलेक्टरों को आदेश- बाहर से आने वाले लोगों की निगरानी हो

- उत्तराखंड में भी इसे लेकर अलर्ट है. उत्तराखंड के स्वास्थ्य सचिव डॉ. पंकज कुमार पांडेय ने सभी जिलों के कलेक्टरों को बाहर से आने वाले सभी लोगों को मॉनिटर करने के निर्देश दिए हैं.

(इनपुटः मिलन शर्मा, तनसीम हैदर, पंकज जैन, रोहित कुमार सिंह, सत्यम मिश्रा, रवीश पाल सिंह)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें