scorecardresearch
 

शहर-शहर कोरोना का कहर, तेलंगाना में स्टूडेंट्स तो देहरादून में अफसर आए चपेट में

देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले फिर बढ़ते दिख रहे हैं. पहले की तुलना में अब खतरा कम जरूर हुआ है, लेकिन बदलते वैरिएंट और लगातार हो रहे म्यूटेशन ने सभी की चिंता बढ़ा दी है.

बच्चों के बीच बढ़ रहे कोरोना मामले ( सांकेतिक फोटो) बच्चों के बीच बढ़ रहे कोरोना मामले ( सांकेतिक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कुछ राज्यों में फिर बढ़ने लगे कोरोना मामले
  • ज्यादा बच्चे हो रहे शिकार, कई स्कूल बंद

देश के कुछ राज्यों में कोरोना के मामले फिर बढ़ते दिख रहे हैं. पहले की तुलना में अब खतरा कम जरूर हुआ है, लेकिन बदलते वैरिएंट और लगातार हो रहे म्यूटेशन ने सभी की चिंता बढ़ा दी है. इस समय देश में बच्चों में भी कोरोना का प्रसार तेजी से होता दिख रहा है.

कुछ राज्यों में फिर बढ़ने लगे कोरोना मामले

तीसरी लहर ने तो दस्तक नहीं दी है, लेकिन बीते कुछ दिनों से जिस तरह से छात्र कोरोना का शिकार हो रहे हैं, सभी की चिंता बढ़ गई है. अब खबर है कि तेलंगाना के एक स्कूल में आठ छात्र कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. ये स्कूल  Khammam जिले में स्थित है, जहां कुल 185 छात्र पढ़ते हैं. अभी तक आठ छात्र पॉजिटिव पाए गए हैं लेकिन कई लोगों की टेस्टिंग होनी बाकी है. स्कूल प्रशासन ने बताया है कि टीचर से लेकर हर दूसरे स्टाफ तक, सभी का टेस्ट किया जाएगा.

इससे पहले तेलंगाना के ही एक स्कूल में 28 छात्राएं कोरोना का शिकार हो गई थीं. तब स्कूल प्रशासन ने एक्शन लेते हुए स्कूल को ही बंद करवा दिया था. राजस्थान के जोधपुर स्कूल में भी 12 बच्चे कोरोना पॉजिटिव निकले हैं. ओडिशा में भी बच्चों के बीच कोरोना का प्रसार तेज होता दिख रहा है.

इंदौर को लेकर बढ़ी चिंता

इस सब के अलावा मध्य प्रदेश के इंदौर में भी कोरोना के मामले फिर बढ़ने लगे हैं. वहां के भारतीय प्रबंध संस्थान में तीन और सैन्य अधिकारी कोरोना की चपेट में आ गए हैं. अब तक वहां पर कुल 14 सैन्य अधिकारी पॉजिटिव पाए गए हैं. ये खतरा इसलिए भी ज्यादा माना जा रहा है क्योंकि पूरे इंदौर में कोरोना के मामले ज्यादा नहीं हैं, सिर्फ भारतीय प्रबंध संस्थान में ही अधिकारी इसकी चपेट में आ रहे हैं. इनमें कई ऐसे भी अधिकारी शामिल हैं जिन्हें कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी हैं.

भारतीय वन अनुसंधान केंद्र में कोरोना की दस्तक

अब अगर इंदौर में चिंता बढ़ाने वाला ट्रेंड दिखा है तो उत्तराखंड भी इस मामले में पीछे नहीं है. वहां पर फिर भारतीय वन अनुसंधान केंद्र में कोरोना ने अपनी दस्तक दे दी है. जानकारी मिली है कि 11 आईएफएस (IFS) ऑफिसर कोरोना की चपेट में आ गए हैं. अभी के लिए एक्शन लेते हुए वहां के पुराने होटल को सील कर दिया गया है और माइक्रो कंटेनमेंट जोन घोषित कर दिया गया है.

ऐसे में कुछ राज्यों के लिए खतरे की घंटी बज चुकी है. केंद्र की तरफ से लगातार निर्देश दिए जा रहे हैं, तेज टीकाकरण और रैपिड टेस्टिंग पर जोर दिया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×