scorecardresearch
 

भारत में CoWin तो दूसरी जगह कैसे मिलता है वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट, जानिए

कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद जिस पल का सभी को सबसे ज्यादा इंतजार था, वह वैक्सीन ही थी. लेकिन इसके बाद जब वैक्सीनेशन अभियान दुनियाभर में शुरू हुआ तो कोरोना सर्टिफिकेट को लेकर सवाल खड़े होने लगे.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत में कोविन से मिलता है वैक्सीन सर्टिफिकेट
  • ब्रिटेन ने उठाए हैं वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर सवाल
  • यूके में एनएचएस देता है पास

कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद जिस पल का सभी को सबसे ज्यादा इंतजार था, वह वैक्सीन ही थी. लेकिन इसके बाद जब वैक्सीनेशन अभियान दुनियाभर में शुरू हुआ तो कोरोना सर्टिफिकेट को लेकर सवाल खड़े होने लगे. हाल ही में ब्रिटेन सरकार ने भारत के कोरोना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट पर सवाल उठाए हैं. भारत में को-विन प्लेटफॉर्म के जरिए से वैक्सीनेशन करवाने वाले लोगों को सर्टिफिकेट दिया जा रहा है. वहीं, दूसरे देशों में कैसे जनता को सर्टिफिकेट मिल रहा है. जानिए इन सबके बारे में...

ब्रिटेन-एनएचएस कोविड पास

ब्रिटेन सरकार टीका लगवाने वाले लोगों को कोविड वैक्सीन पास देती है, जिसे एनएचएस कोविड पास कहते हैं. यह सिर्फ वैक्सीनेशन के बाद ही नहीं दिया जाता है, बल्कि कोरोना की निगेटिव रिपोर्ट के आने के बाद दिया जाता था. इस सर्टिफिकेट में लोगों के वैक्सीनेशन डिटेल्स और टेस्ट रिजल्ट्स के बारे में जानकारी दी गई होती है. वैक्सीनेशन करवाने के 24 घंटे के भीतर ही यह सर्टिफिकेट डिजिटल तरीके से मिल जाता है. हालांकि, कई बार रिकॉर्ड्स को अपडेट करने में पांच दिनों का भी समय लग सकता है. 

पूरी प्रक्रिया बहुस्तरीय और मुश्किल है. आप एनएचएस ऐप या एनएचएस वेबसाइट का इस्तेमाल करके एक डिजिटल वर्जन प्राप्त कर सकते हैं. आप इसे पीडीएफ के रूप में डाउनलोड कर सकते हैं या ईमेल के जरिए आपको भेज सकते हैं. लेकिन, एनएचएस ऐप से डिजिटल वर्जन पाने के लिए, आपको ऐप का उपयोग करने के लिए इंग्लैंड में जीपी सर्जरी के साथ रजिस्टर्ड होना चाहिए. इन सर्विसेज का इस्तेमाल करने के लिए किसी भी शख्स को एनएचएस लॉगिन की आवश्यकता होती है.

यूरोपीय यूनियन- ईयू डिजिटल कोविड सर्टिफिकेट

ब्रिटेन की ही तरह यूरोपीय यूनियन के डिजिटल कोविड सर्टिफिकेट का इस्तेमाल तब भी किया जा सकता है, जब किसी का टीकाकरण नहीं हुआ हो. फिर चाहे जब कोई निगेटिव कोविड परीक्षण रिपोर्ट प्राप्त करता है या जब कोई व्यक्ति कोविड से उबरता है. उदाहरण- यह या तो टेस्ट सेंटर्स या फिर हेल्थ अथॉरिटीज या फिर सीधे  eHealth पोर्टल के जरिए से जारी किया जाता है. वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट मेंबर स्टेट द्वारा जारी किए जाते हैं जहां पर टीकाकरण हुआ होात है. इसके अलावा, टेस्ट सर्टफिकेट्स और रिकवरी सर्टिफिकेट्स भी मेंबर स्टेट ही जारी करते हैं.

अमेरिका में कैसे मिलता है कोविड वैक्सीन सर्टिफिकेट?

जब कोई हेल्थ केयर वर्कर किसी को कोविड वैक्सीन लगाता है तब VAMS द्वारा उसे सर्टिफिकेट जारी किया जाता है. सर्टिफिकेट में वैक्सीन लगने की तारीख और दूसरी डोज की डेट लिखी गई होती है. इसके अलावा, वैक्सीन निर्माता, लॉट नंबर, क्लीनिक का नाम भी शामिल होता है. टीका लगवाने के बाद किसी भी समय पोर्टल से अपना सर्टिफिकेट हासिल किया जा सकता है. वे कभी भी पोर्टल के जरिए से अपना सर्टिफिकेट देख भी सकते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें