scorecardresearch
 

बंगालः टूटे घर में रहती हैं 'कैश क्वीन' की मां, नहीं जानती थीं अर्पिता मुखर्जी के पास है इतना पैसा

अर्पिता मुखर्जी के घर से ईडी को 50 करोड़ से ज्यादा कैश मिला है. लेकिन ऐशो-आराम से रहने वाली 'कैश क्वीन' की मां मुफलिसी में जीवन बसर कर रही हैं. अर्पिता की मां बेलघोरिया में एक जर्जर मकान में रहती हैं. उनके पास मूलभूत सुविधाओं तक की कमी है. एक ओर बेटी अर्पिता लग्जरी लाइफ जी रही थी, वहीं दूसरी ओर मां के पास जरूरतें पूरी करने के लिए भी सामान नहीं है.

X
अर्पिता की मां गरीबी में जीवन बसर कर रही हैं अर्पिता की मां गरीबी में जीवन बसर कर रही हैं
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ईडी को अर्पिता के घर से 50 करोड़ कैश मिला था
  • करोड़ों रुपये का सोना भी जब्त किया है जांच के दौरान

पश्चिम बंगाल में शिक्षा भर्ती घोटाले में पार्थ चटर्जी और उनकी करीबी बताई जा रहीं अर्पिता चटर्जी पर ईडी ने शिकंजा कस दिया है. अर्पिता के घर से ED की जांच में 50 करोड़ रुपये से ज्यादा कैश और 5 किलो गोल्ड मिला था. लेकिन हैरानी की बात ये है कि जिस कैश क्वीन के घर से अकूत दौलत का भंडार मिला था, उनकी मां मुफलिसी मे जीवन गुजार रही हैं. दरअसल, अर्पिता मुखर्जी की मां कोलकाता से महज कुछ किलोमीटर दूर पुश्तैनी मकान में रहती हैं. ये मकान पूरी तरह से जर्जर हो चुका है. 

कैश क्वीन अर्पिता मुखर्जी का पुश्तैनी मकान उत्तर 24 परगना के बेलघोरिया इलाके में हैं. यहां उनकी मां मिनती मुखर्जी अकेले रहती है. पुश्तैनी मकान करीब 50 साल पुराना है. बेहद जर्जर हो चुका है. आलम ये है कि इस मकान में अर्पिता की बुजुर्ग और बीमार मां के पास कोई  भी लग्जरी सामान नहीं है. एक ओर उनकी बेटी जिस लग्जरी लाइफ का आनंद उठा रही थीं, वहीं अर्पिता की मां के पास मूलभूत सुविधाओं की भी कमी है. 

अर्पिता ने अपनी बीमार मां की देखभाल के लिए दो हाउस हेल्प का इंतजाम कर रखा है, जो उनके भोजन पानी और अन्य जरूरतों का ध्यान रखती हैं. इलाके के लोगों के मुताबिक अर्पिता कभी कभार अपनी मां से मिलने एक कार से आया करती थी. लेकिन वह यहां लंबे समय तक नहीं रुकती थीं. 

अर्पिता की मां इसी घर में रहती हैं

अर्पिता की मां अपनी बेटी के बारे में कोई भी बात करना नहीं चाहती हैं. उन्होंने कहा कि वह अपने घर में भी आने-जाने वाले किसी व्यक्ति से इस संबंध में कोई भी बात नहीं करना चाहती हैं. 

अर्पिता के ड्राइवर ने भी स्वीकारी कई कारों की बात

अर्पिता मुखर्जी के घर से पहले ED ने नोटों का जखीरा बरामद किया. फिर जांच आगे बढ़ी तो एजेंसी को अर्पिता के चार फ्लैटों की जानकारी मिली, और फिर ईडी को अर्पिता की लग्जरी कारों का पता चला है. हालांकि कैश क्वीन के ड्राइवर ने भी ये बात कही है कि अर्पिता के पास कई गाड़ियां हैं. हालांकि इनमें से कुछ गाड़ियां पिछले कुछ महीनों से गायब हैं. वहीं अर्पिता की चारों कार उनके डायमंड सिटी कॉम्प्लेक्स से गायब बताई जा रही हैं. ये चार कारें Mercedes Benz, Audi A4, Honda CRV और Honda City है. इनमें से 2 कारें- एक होंडा सिटी (Honda City) और दूसरी ऑडी (Audi) अर्पिता मुखर्जी के नाम पर हैं. जांच एजेंसी इन कारों की तलाश में CCTV फुटेज को खंगाल रही है. 

अर्पिता मुखर्जी के घर से कितनी रकम मिली है

पहली छापेमारी


कैश- 21 करोड़ 90 लाख रुपये
सोनाा- 70 लाख रुपये का बरामद


दूसरी छापेमारी


कैश- 27 करोड़ 90 लाख रुपये
सोना- 4 करोड़ 31 लाख रुपये का बरामद 

ईडी ने कब की थी रेड?

ईडी ने 23 जुलाई को अर्पिता के फ्लैट पर पहली बार छापा मारा था. इस दौरान ईडी को करीब 21 करोड़ रुपये कैश मिला था. इतना ही नहीं ईडी ने अर्पिता के घर से 20 मोबाइल और 50 लाख रुपये की ज्वैलरी भी बरामद की थी. ईडी को अर्पिता के घर से करीब 60 लाख की विदेशी करेंसी भी मिली थी. इसके बाद ईडी ने अर्पिता मुखर्जी को गिरफ्तार किया था. 

पार्थ के 17 ठिकानों पर मारा छापा

पश्चिम बंगाल में शिक्षा घोटाले की जड़े खंगालने में लगी ईडी फुल एक्शन में है. एजेंसी पार्थ चटर्जी से जुड़े करीब 17 ठिकानों पर छापा मार चुकी है. एक दर्जन से ज्यादा नए ठिकानों पर छापेमारी की तैयारी है. डायमंड सिटी के फ्लैट पर 22 जुलाई को छापा पड़ा. बेलघोरिया के दो फ्लैट पर 27 जुलाई को छापा पड़ा, और चिनार पार्क का फ्लैट जहां 28 जुलाई को ईडी दबिश दी. अब तक अर्पिता के चार फ्लैट्स पर ED छापेमारी कर चुकी है. 
 

ये भी देखें

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें