scorecardresearch
 

बंगालः BJYM के कार्यकर्ताओं पर हमले की FIR दर्ज नहीं कर रही पुलिस, तेजस्वी का आरोप

बंगलुरू साउथ से लोकसभा सांसद और भाजयुमो के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने ट्वीट कर कहा कि हम भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं पर आज हुए क्रूड बम अटैक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए जोरासांको पुलिस स्टेशन में हैं. हमने इंस्पेक्टर से एफआईआर दर्ज करने को कहा है. वह बेहद सुस्त हैं, बॉस के आदेश का इंतजार कर रहे हैं.

भाजयुमो के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या बंगाल के एक थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंचे (फोटो-ट्वीट) भाजयुमो के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या बंगाल के एक थाने में शिकायत दर्ज कराने पहुंचे (फोटो-ट्वीट)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बंगलुरू साउथ से लोकसभा सांसद हैं तेजस्वी
  • कार्यकर्ताओं पर हमले की शिकायत करने पहुंचे थाने
  • तेजस्वी- पुलिस शिकायत दर्ज नहीं कर रही

बंगाल में एक बार भारतीय जनता पार्टी और तृणमूल कांग्रेस के बीच ठनती दिख रही है. लोकसभा सांसद और भारतीय जनता युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या इस समय बंगाल के दौरे पर हैं और आज दिन में बीजेपी युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं पर हुए हमले के खिलाफ थाने पहुंचे. उन्होंने आरोप लगाया कि पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही है.

बंगलुरू साउथ से लोकसभा सांसद और भाजयुमो के अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ने ट्वीट कर कहा, 'हम भारतीय जनता युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं पर आज हुए क्रूड बम अटैक के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के लिए जोरासांको पुलिस स्टेशन में हैं. हमने इंस्पेक्टर से एफआईआर दर्ज करने को कहा है. वह बेहद सुस्त हैं, बॉस के आदेश का इंतजार कर रहे हैं. पुलिस को संज्ञेय अपराधों में एफआईआर दर्ज करनी ही होगी, लेकिन हम पिछले 45 मिनट से इंतजार कर रहे हैं.'

इसके आधे घंटे बाद तेजस्वी ने एक और ट्वीट किया, जिसमें उन्होंने कहा, 'बंगाल के युवा बड़ी संख्या में जोरासांको पुलिस स्टेशन के बाहर एकत्र हो रहे हैं. अब पुलिस के पास दो विकल्प हैं या तो कानून के अनुसार एफआईआर दर्ज करें या वर्दी हटाएं और टीएमसी पार्टी का झंडा लगाएं.'

इस बीच एक दिन पहले पश्चिम बंगाल में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्य सरकार के सचिवालय नाबन्ना को 2 दिनों के लिए बंद करने का फैसला लिया गया. हावड़ा में स्थित इस सचिवालय में 8 और 9 अक्टूबर को सैनिटाइजेशन किया जाएगा. इस वजह से दो दिनों के लिए यहां कामकाज बंद रहेगा. साथ ही राइटर्स बिल्डिंग में भी सैनिटाइजेशन का काम होगा जिस कारण यहां भी कामकाज बंद रहेगा.

खास बात यह है कि बीजेपी आज गुरुवार को दिन में राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन करने वाली थी और उसने नाबन्ना का घेराव करने की योजना बनाई थी. इससे पहले राज्य सरकार ने कहा है कि कोरोना की वजह से नाबन्ना का सैनिटाइजेशन किया जा रहा है, इसलिए इस परिसर के आस-पास लोग मौजूद न रहें.

लेकिन तेजस्वी सूर्य ने ट्वीट कर बताया कि यह सब कुछ फासिज्म जैसा है. छतों से टीएमसी के गुंडों द्वारा हमारी रैली में देशी बम फेंके गए. एक शांतिपूर्ण मार्च के खिलाफ आंसू गैस और पानी के कैन छोड़े गए. उत्पीड़क का समय खत्म हो रहा है.

उन्होंने बीजेपी रैली में हंगामा के खिलाफ एक और ट्वीट में कहा कि लोकतंत्र और स्वतंत्रता आजाद नहीं है. किसी को इसके लिए कीमत चुकानी पड़ती है. बंगाली युवाओं की आने वाले कल की पीढ़ी आज के भाजयुमो कार्यकर्ताओं को आभार के साथ याद करेगी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें