scorecardresearch
 

असम के CM बोले- अगर बलात्कारी भागे तो एनकाउंटर का पैटर्न अपनाया जाना चाहिए

असम (Assam) के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा (CM Himanta Biswa Sarma) ने कानून व्यवस्था (Law and Order) को बनाए रखने के लिए एनकाउंटर पॉलिसी (Encounter Policy) को सही कहा है.

मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सभी थानों के ओसी के साथ CM की बैठक
  • एनकाउंटर पैटर्न के पक्ष में खड़े हुए CM हिमंता

असम (Assam) के मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा (CM Himanta Biswa Sarma) ने कानून व्यवस्था (Law and Order) को बनाए रखने के लिए एनकाउंटर पॉलिसी (Encounter Policy) को सही कहा है. साथ ही सीएम हिमंता ने महिलाओं के खिलाफ अपराधों से सख्ती से निपटने का निर्देश दिया है.

सोमवार को सभी पुलिस थानों के प्रभारी अधिकारियों (ओसी) के साथ मीटिंग में सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा, 'कुछ लोगों ने मुझसे कहा कि आजकल अपराधी पुलिस के चंगुल से भाग रहे हैं और एनकाउंटर की बहुत घटनाएं हो रही हैं, क्या यह एक पैटर्न बन रहा है? मैंने उनसे कहा, हां यह पुलिसिंग पैटर्न होना चाहिए.'

सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा, 'बलात्कारी भागे और पुलिस से हथियार छीनने की कोशिश करे तो पुलिस को गोली चलानी पड़ेगी, लेकिन छाती पर नहीं और कानून ने कहा कि आप पैरों पर गोली मार सकते हैं, हम असम पुलिस को देश के सर्वश्रेष्ठ पुलिसिंग संगठन में बदलना चाहते हैं.'

पशु तस्करी पर सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा, 'गाय हमारी भगवान है, गाय हमें दूध देती है, गोबर देती है और ट्रैक्टर आने से पहले हमने मवेशियों की मदद से खेती की थी और यह कई हिस्सों में जारी भी है, अब लोग पशु तस्करी, नशीली दवाओं की तस्करी में भी शामिल हो गए हैं, किसी को बख्शा नहीं जाना चाहिए.'

सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने संदिग्ध मामलों को छोड़कर 7 दिनों के भीतर नौकरियों, पासपोर्ट आदि के लिए सभी पुलिस सत्यापन पूरा करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि अब से हर छह महीने में ओसी सम्मेलन आयोजित किया जाएगा. इसके साथ ही सीएम हिमंता ने पुलिस कर्मियों के लिए कार्यस्थल पर बेहतर सुविधाओं का ऐलान किया.

सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा कि सभी ओसी को उनके पुलिस थानों के लिए एक वाहन उपलब्ध कराया जाएगा जबकि दुर्गम और दुर्गम क्षेत्रों में उन पुलिस स्टेशनों के लिए मोटरसाइकिल प्रदान की जाएगी, एफआईआर दर्ज करने और अन्य गतिविधियों को सुव्यवस्थित करने के लिए सभी पुलिस स्टेशनों को तीन कंप्यूटर उपलब्ध कराए जाएंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें