scorecardresearch
 

'मस्जिद के बाहर भगवा झंडे वाले', वीडियो शेयर कर ओवैसी बोले- कट्टरता की हद देखिए

ओवैसी ने वीडियो शेयर करते हुए अपने ट्वीट में लिखा है कि इस देश में बहुसंख्यक कट्टरता की हद देखिए. जब वो मस्जिदें तोड़ते हैं तो उन्हें गर्व और सुकून का एहसास होता है.

AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • असदुद्दीन ओवैसी ने ट्विटर पर शेयर किया मस्जिद का वीडियो
  • मस्जिद पर चढ़कर झंडे उतारने व तोड़-फोड़ करने का आरोप

ऑल इंडिया मजलिस-ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के चीफ और लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने एक ट्वीट शेयर करते हुए हिंदूवादी संगठनों को निशाने पर लिया है. ओवैसी ने जो ट्वीट शेयर किया है उसमें एक वीडियो भी है, जिसमें एक मस्जिद के बाहर हिंदू संगठनों की भीड़ नजर आ रही है, जबकि कुछ लोग मस्जिद के मीनार पर लगे झंडे हटाते हुए दिखाई दे रहे हैं. दावा किया गया है कि इन लोगों ने मस्जिद में तोड़-फोड़ भी की. 

ओवैसी ने वीडियो शेयर करते हुए अपने ट्वीट में लिखा है, ''इस देश में बहुसंख्यक कट्टरता की हद देखिए. जब वो मस्जिदें तोड़ते हैं तो उन्हें गर्व और सुकून का एहसास होता है.''

ओवैसी ने ये बात जिस घटना के लिए लिखी है वो मध्य प्रदेश के मंदसौर की बताई जा रही है. जिस ट्वीट को ओवैसी ने शेयर किया है उसमें दावा किया गया है कि एमपी में मंदसौर जिले के डोराना गांव में हिंदू संगठनों के लोगों ने मस्जिद से झंडे उतारे, मस्जिद में तोड़-फोड़ की, ग्रामीणों के घर में घुसकर लाइट मीटर, वाहन और दरवाजे तोड़े गए. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से प्रदेश की फिजा खराब करने वाले ऐसे लोगों की गिरफ्तारी करने की भी मांग इस ट्वीट में की गई है. 

ओवैसी के ट्वीट का स्क्रीनशॉट

देखें: आजतक LIVE TV

वीडियो में नजर आ रहा है कि एक मस्जिद के बाहर काफी भीड़ है जिनके हाथों में भगवा झंडे हैं. एक शख्स मस्जिद की मीनार पर भी भगवा झंडा लगाते दिखाई दे रहा है. इस घटना का जिक्र करते हुए ही ओवैसी ने बहुसंख्यकों की कट्टरता को लेकर निशाना साधा है. साथ ही ओवैसी ने अपने ट्वीट में प्रधानमंत्री कार्यालय को टैग करते हुए लिखा है कि विडंबना देखिए, पीएम मोदी ने हाल ही में प्रदर्शनकारियों को ये सलाह दी थी कि संपत्ति को नुकसान न पहुंचाया जाए.

इसके साथ ही ओवैसी ने सरकार से मांग की है कि ऐसे गुमराह लोगों की कट्टरता को दूर करने के लिए जल्द कुछ किया जाए.


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें