scorecardresearch
 

YSRCP सांसद गोरंटला माधव का आपत्तिजनक वीडियो वायरल, मचा हंगामा, नेताजी बोले- मार्फ्ड VIDEO

आंध्र प्रदेश में सत्ताधारी पार्टी YSRCP के सांसद का एक आपत्तिजनक वीडियो वायरल होने के बाद विपक्षी दल के नेताओं ने सांसद के निलंबन की मांग की. उन्होंने मुख्यमंत्री वाईएस जगनमोहन रेड्डी से उनके खिलाफ तुरंत कार्रवाई करने और निलंबित करने को कहा. साथ ही उन्होंने वीडियो के जांच की मांग भी की. 

X
YSRCP सांसद गोरंटला माधव (फोटो- ट्विटर) YSRCP सांसद गोरंटला माधव (फोटो- ट्विटर)

आंध्र प्रदेश के YSRCP सांसद गोरंटला माधव का एक आपत्तिजनक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. 4 अगस्त को वायरल हुए सांसद के इस वीडियो के बाद प्रदेश के नेताओं और उनके क्षेत्र के लोगों में हंगामा मच गया. वहीं सांसद माधव ने इस वीडियो को मार्फ्ड बताया और इसके लैब में टेस्ट करने की बात कही.

आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ पार्टी YSRCP के सांसद का वीडियो वायरल होने के बाद विपक्षी दल के नेताओं ने सांसद के निलंबन की मांग की. उन्होंने मुख्यमंत्री वाईएसजगन मोहन रेड्डी से उनके खिलाफ तुरंत कार्रवाई करने और निलंबित करने को कहा. साथ ही उन्होंने वीडियो के जांच की मांग भी की. 

पूर्व विधायक और तेलुगु देशम पार्टी (TDP) के सीनियर नेता बोंडा उमामहेश्वर राव ने कहा कि YSRCP के सांसदों, मंत्रियों, पूर्व मंत्रियों, विधायकों और पार्टी के अन्य नेताओं का व्यवहार बहुत ही घृणित है. उमामहेश्वर राव ने कहा कि YSRCP नेता इतने गैर अनुशासित तरीके से काम कर रहे हैं. जब सांसद माधव का एक महिला का यौन शोषण करने का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है तो वह बेशर्मी से इस तथ्य को नकार रहे हैं. 

TDP नेता उमा ने इस दौरान YSRCP सांसद विजय साई पर भी निशाना साधा. उन्होंने पूछा कि क्या वह अब माधव के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के लिए ट्वीट कर सकते हैं. बोंडा ने बताया कि चुनावी हलफनामे के अनुसार, श्री गोरंटला माधव के खिलाफ धारा 376, धारा 302 और धारा 506 के तहत मामले लंबित हैं. उन्होंने मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी से मांग की कि पार्टी के अध्यक्ष रेड्डी को लोगों को बताना चाहिए कि वह श्री गोरंटला माधव के खिलाफ क्या कार्रवाई कर रहे हैं. 

हालांकि YSRC पार्टी की महासचिव और राज्य सरकार की सलाहकार सज्जला रामकृष्ण रेड्डी ने आरोपों पर कहा कि इस मामले में जांच चल रही है. अगर वीडियो मॉर्फ्ड साबित नहीं होता है तो सांसद के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें