scorecardresearch
 
न्यूज़

Jewar International Airport: दुनिया का चौथा सबसे बड़ा एयरपोर्ट, एक लाख लोगों को नौकरियां...जानिए कैसे UP की तस्वीर बदल देगा Jewar Airport

Jewar Airport
  • 1/7

Jewar Airport, Noida International Airport: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के पास जेवर में दुनिया का चौथा सबसे बड़ा इंटरनेशनल एयरपोर्ट (Jewar International Airport) बनने जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) गुरुवार को खुद जेवर में बनने वाले इंटरनेशनल एयरपोर्ट का शिलान्यास करने जा रहे हैं. एयरपोर्ट के बनने के साथ ही उत्तर प्रदेश (Airports in Uttar Pradesh) की तस्वीर पूरी तरह से बदल जाएगी. दरअसल, यूपी पहला ऐसा राज्य हो जाएगा, जिसके पास कुल पांच इंटरनेशनल एयरपोर्ट (International Airports in UP) होंगे.

Noida International Airport
  • 2/7

दिल्ली के इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट (IGI Airport) से 72 किलोमीटर की दूरी पर बनने जा रहा इंटरनेशनल एयरपोर्ट भारत का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा. पहले फेज के निर्माण की कुल कीमत तकरीबन 10,050 करोड़ रुपये आएगी. इससे पहले, पीएम मोदी ने हाल ही में यूपी के कुशीनगर एयरपोर्ट का उद्घाटन किया था. वहीं, भगवान श्रीराम की नगरी अयोध्या में भी एक इंटरनेशनल एयरपोर्ट बनाया जा रहा है.

One Lakh Jobs
  • 3/7

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट के बनने से युवाओं को रोजगार भी मिल सकेगा. आसपास के इलाकों-अलीगढ़, हापुड़, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और बुलंदशहर जैसे जिलों के युवाओं के लिए रोजगार का अवसर और बढ़ने की संभावना है. अधिकारियों की मानें तो एयरपोर्ट की वजह से तकरीबन एक लाख नई नौकरियां पैदा हो सकती हैं. 

Noida International Airport
  • 4/7

एयरपोर्ट के आसपास इंडस्ट्रियल हब भी बनेगा. जैसे- स्टोरेज, डिफेंस और फूड की कंपनियां लगेंगी. इससे निवेश बढ़ेगा और प्रदेश का अधिक विकास हो सकेगा. नागरिक उड्डयन सचिव राजीव बंसल ने कहा, ''पहले फेज में प्रति वर्ष एक करोड़ 20 लाख यात्रियों के यहां से यात्रा करने की उम्मीद है और अंतिम चरण यानी 2040 और 50 के बीच, जेवर एयरपोर्ट की क्षमता प्रति वर्ष 7 करोड़ यात्रियों को संभालने की होगी.''

Noida Airport Location
  • 5/7

लोकेशन के हिसाब से देखें तो भी नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट काफी अहम है. दिल्ली से जहां सिर्फ 72 किलोमीटर की दूरी पर है तो आगरा से इसकी दूरी 130 किलोमीटर की होगी. वहीं, ग्रेटर नोएडा से 28 और नोएडा से 40 किलोमीटर की दूरी पर एयरपोर्ट स्थित होगा.

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट
  • 6/7

वहीं, सभी प्रमुख एक्सप्रेस-वे के जरिए से नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंच सकते हैं. यमुना एक्सप्रेस-वे, वेस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे, ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे, दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस-वे और कई अन्य एक्सप्रेस-वे के माध्यम से एयरपोर्ट जा सकेंगे. यह एयरपोर्ट प्रस्तावित दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल से भी लिंक रहेगा, जिससे दिल्ली और एयरपोर्ट की दूरी मात्र 21 मिनट में तय हो जाएगी.

Jewar Airport Runways
  • 7/7

रिपोर्ट्स के अनुसार, जब यह एयरपोर्ट पूरी तरह से बन जाएगा तब इसमें कुल आठ रनवे होंगे. यह एयरपोर्ट 3,500 एकड़ में बनकर तैयार होगा. पहले फेज में 1,327 हेक्टेयर जमीन को डेवलप किया जाएगा. नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दावा किया है कि जेवर एयरपोर्ट एशिया का सबसे बड़ा एयरपोर्ट होगा.