scorecardresearch
 
न्यूज़

INS Vikrant के बाद भारत को मिला एक और युद्धपोत, Taragiri हुआ लॉन्च

Taragiri 1
  • 1/7

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कई बार 'आत्मनिर्भर भारत' का आह्वान कर चुके हैं. ऐसे में भारतीय नौसेना आईएनएस विक्रांत (INS Vikrant) की कमीशनिंग के बाद एक और युद्धपोत को अपने बेड़े में शामिल करने जा रही है. इसका नाम है Taragiri, जो एक स्टेल्थ फ्रिगेट है, जिसे आज लॉन्च कर दिया गया. आइए जानते हैं इसकी खासियतें...

(Photo : AIR)

Taragiri 2
  • 2/7

Taragiri देश में P-17A फ्रिगेट के तहत बनने वाला तीसरा युद्धपोत है. इसका निर्माण मुंबई के मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स ने किया, जहां आज इसे लॉन्च किया गया. Taragiri का नाम गढ़वाल में स्थित हिमालय की पहाड़ी श्रृंखला के नाम पर रखा गया है. (Photo : AIR)

Taragiri 3
  • 3/7

Taragiri को इंटीग्रेटेड कंस्ट्रक्शन मेथेडेलॉजी से बनाया गया है. यानी इसके अलग-अलग हिस्सों को विभिन्न जगहों पर बनाया गया और फिर उसे लाकर एक साथ जोड़ दिया गया. इसे 10 सितंबर 2020 को बनाना शुरू किया गया था. भारतीय नौसेना में यह अगस्त 2025 तक शामिल हो जाएगा. (Photo : MDSL)

Taragiri 4
  • 4/7

Taragiri पर एंटी एयर वॉरफेयर के लिए भविष्य में सतह से हवा में मार करने वाली 32 बराक 8 ईआर (Barak 8 ER) या फिर भारत का सीक्रेट हथियार VLSRSAM मिसाइल लगाई जा सकती है. एंटी सरफेस वॉरफेयर के लिए इसपर 8 BrahMos एंटी शिप मिसाइल लगाई जा सकती हैं. युद्धपोत में एंटी-सबमरीन वॉरफेयर के लिए 2 ट्रिपल टॉरपीडो ट्यूब्स हैं. इसके अलावा 2 RBU-6000 एंटी सबमरीन रॉकेट लॉन्चर्स लगे हुए हैं. (Photo : PTI)

Taragiri 5
  • 5/7

Taragiri 3510 टन वजनी है. इसे भारतीय नौसेना के इन-हाउस ब्यूरो ऑफ नेवल डिजाइन ने डिजाइन किया है. 149 मीटर लंबा और 17.8 मीटर चौड़ा ये जहाज दो गैस टर्बाइन और दो मुख्य डीजल इंजनों के संयोजन से चलता है. भारत में 1964 से अब तक 90 से ज्यादा वॉरशिप, जिसमें छोटे क्राफ्ट से लेकर एयरक्राफ्ट कैरियर तक बनाए जा चुके हैं. (Photo : AIR)

Taragiri 6
  • 6/7

Taragiri स्टील्थ फ्रिगेट में अत्याधुनिक हथियार, सेंसर, एडवांस एक्शन इन्फॉर्मेशन सिस्टम, प्लेटफॉर्म मैनेजमेंट सिस्टम, वर्ल्ड क्लास मॉड्यूलर, बेहतरीन पावर डिस्ट्रीब्यूशन सिस्टम समेत कई अन्य एडवांस फीचर्स हैं. इसे सुपरसोनिक मिसाइल सिस्टम से लैस किया जाएगा. दुश्मन के विमानों और जहाज-रोधी क्रूज मिसाइलों का मुकाबला करने के लिए इसे डिजाइन किया गया है. (Photo : PTI)

Taragiri 7
  • 7/7

भारत के पास शिवालिक क्लास, तलवार क्लास और ब्रह्मपुत्र क्लास में कुल मिलाकर 12 फ्रिगेट्स हैं. सबसे भारी और अत्याधुनिक 6200 टन वाले शिवालिक क्लास फ्रिगेट हैं. ये ऐसे जंगी जहाज होते हैं जिनका मुख्य काम हमला करना ही है. आजकल स्टेल्थ गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट्स होते हैं. जिनमें मिसाइलों को तैनात किया जाता है. (Photo : MDSL)