scorecardresearch
 

खुद को 'बीजेपी की बेटी' बताने वाली राखी सावंत RPI में शामिल

राखी सावंत राजनीति में अपनी दूसरी इनिंग रामदास अठावले की पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के साथ खेलना चाहती है.

राखी सावंत राखी सावंत

बॉलीवुड की आइटम गर्ल राखी सावंत राजनीति में काफी तेज रफ्तार से भाग रही हैं. लोकसभा चुनावों से पहले राखी बीजेपी की बेटी बन कर दिल्ली तक पहुंच गई थी, लेकिन जब बीजेपी में बात नहीं बनी तो राखी ने राष्ट्रीय आम पार्टी के नाम से अपनी एक अलग पार्टी निकाली. चुनाव चिन्ह मिर्ची पर वह लोकसभा चुनाव भी लड़ी पर जमानत जब्त हो गई. हार के बाद राखी ने ये पार्टी बंद कर दी. अब राखी सावंत राजनीति में अपनी दूसरी इनिंग रामदास अठावले की पार्टी रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के साथ खेलना चाहती है.

शनिवार दोपहर को राखी RPI में शामिल हुईं और गरीबों के लिए लड़ने की बात की. पार्टी के अध्यक्ष रामदास आठवले ने राखी का पार्टी में स्वागत किया और उन्हें RPI के राज्य महिला विंग का वर्किंग प्रेसिडेंट भी बना दिया.
इस बात से राखी भी बेहद खुश दिखीं. पार्टी ज्वाइन करने के बाद उन्होंने कहा, 'मैं खुश हूं कि मुझे RPI में प्रवेश मिला है. ये बाबा अंबेडकर के विचारों पर चलने वाली पार्टी है. मैं उनका आदर करती हूं. मेरा मकसद गरीबों के लिए काम करना है.'

इस दौरान राखी ने राज ठाकरे से चुनावी मैदान में दो-दो हाथ करने का भी दंभ भरा. उन्होंने कहा, 'मैं किसी से डरती नहीं हूं. अगर मुझे पार्टी ने टिकट दिया तो राज ठाकरे के खिलाफ भी लड़ूंगी.'

अब राखी ने नई पार्टी ज्वाइन तो कर ली है लेकिन क्या वह इस पार्टी के साथ टिक पाएंगी ये तो आने वाला वक्त ही बताएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें