scorecardresearch
 

सीट बंटवारे पर फिर नहीं बनी बात, बीजेपी-शिवसेना में गठबंधन पर मंथन जारी

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच सीट बंटवारे को लेकर अभी तक सहमति नहीं बन पाई है. रविवार को भी दोनों ही पार्टियों में बैठकों का दौर जारी रहा.

X

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना के बीच सीट बंटवारे को लेकर अभी तक सहमति नहीं बन पाई है. रविवार को भी दोनों ही पार्टियों में बैठकों का दौर जारी रहा. अब गठबंधन पर आखिरी फैसला सोमवार शाम तक आने की उम्मीद जताई जा रही है.

रविवार शाम को बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति और संसदीय बोर्ड की बैठक हुई. बीजेपी ने संसदीय बोर्ड ने गठबंधन और पार्टी कैंडिडेट पर फैसला लेने का अधिकार अमित शाह को दे दिया है. सूत्रों ने बताया कि बीजेपी चुनाव समिति की बैठक में 135-140 सीटों पर चर्चा हुई. पार्टी इतने सीटों पर समझौते को तैयार है. हालांकि उम्मीदवारों की सूची का ऐलान गठबंधन पर आखिरी फैसले के बाद ही होगा.

सूत्रों ने बताया कि कई सीनियर नेता गठबंधन को जारी रखने के पक्ष में हैं. पार्टी आखिरी मौके तक गठबंधन बचाने की कोशिश करेगी. बीजेपी सिर्फ उन 59 सीटों पर चर्चा चाहती है जिसपर शिवसेना कभी नहीं जीती. हालांकि महाराष्ट्र बीजेपी ने केंद्रीय नेतृत्व को यह सुझाव भी दिया है कि अगर सम्मानजक सीटें नहीं मिलती तो सभी 288 सीटों पर चुनाव लड़ा जा सकता है.

दूसरी तरफ उद्धव ठाकरे के आवास मातोश्री पर शिवसेना की बैठक हुई. बैठक में पार्टी के जिला अध्यक्षों और प्रभारियों ने हिस्सा लिया. उद्धव ठाकरे ने चुनाव तैयारियों का जायजा लिया. इस दौरान गठबंधन या फिर अकेले चुनाव लड़ने पर चर्चा हुई. जिला अध्यक्षों से 288 सीटों पर पार्टी की संभावनाओं पर भी मंथन हुआ.

उद्धव ठाकरे का फॉर्मूला
उद्धव ठाकरे ने फार्मूला दिया जिसके मुताबिक शिवसेना 151 सीटों पर चुनाव लड़ेगी और बीजेपी को 119 सीटों पर चुनाव लड़ने को कहा गया है. बाकी 18 सीटों को 4 अन्य सहयोगी दलों को देने का फॉर्मूला सुझाया गया. हालांकि बीजेपी ने शिवसेना के इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया. बीजेपी ने कहा कि ये फैसला अव्यावहारिक है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें