scorecardresearch
 

पुलिस की लापरवाही के चलते गई 18 की जान? क्राइम ब्रांच करेगी मुंबई भगदड़ की जांच

मुंबई में आध्‍यात्मिक गुरु डॉ. बुरहानुद्दीन के अंतिम संस्‍कार के वक्‍त मची भगदड़ मामले की जांच मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच करेगी. दाऊदी बोहरा समुदाय के आध्यात्मिक गुरु डॉ. सैयदना मोहम्मद बुरहानुद्दीन के आखिरी दीदार के वक्त हुए हादसे में 18 लोग मारे गए थे जबकि कम से कम 40 लोग घायल हो गए थे.

मुंबई में मची भगदड़ के बाद का मंजर (फाइल फोटो) मुंबई में मची भगदड़ के बाद का मंजर (फाइल फोटो)

मुंबई में आध्‍यात्मिक गुरु डॉ. बुरहानुद्दीन के अंतिम संस्‍कार के वक्‍त मची भगदड़ मामले की जांच मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच करेगी. दाऊदी बोहरा समुदाय के आध्यात्मिक गुरु डॉ. सैयदना मोहम्मद बुरहानुद्दीन के आखिरी दीदार के वक्त हुए हादसे में 18 लोग मारे गए थे जबकि कम से कम 40 लोग घायल हो गए थे. शुरुआती जांच में इस बात के संकेत मिले हैं कि इस मामले में पुलिस ने लापरवाही बरती है.

मोहम्मद बुरहानुद्दीन को लाखों की हुजूम के सामने सुपुर्द ए खाक किया गया था, लेकिन मुंबई के मालबार हिल के सैफी महल में उनके दीदार के लिए इकठ्ठा हुए लाखों लोगों में से 18 को अपनी जान गंवानी पड़ी. सवाल उठा कि आखिर इन 18 बेगुनाहों की मौत का जिम्मेदार कौन है? मुंबई पुलिस के मुखिया ने तो पहले ही अपना पल्‍ला झाड़ लिया था. मुंबई पुलिस कमिश्‍नर सत्यपाल सिंह ने कहा, 'ऐसे इमोशनल मामलों में पुलिस कुछ नहीं कर सकती. हमें भी अंदाजा नहीं था और आयोजकों को भी अंदाजा नहीं था कि इतनी संख्या में लोग आएंगे'.

मामले की शुरुआती जांच में कुछ ऐसी बातें सामने आई हैं जिनसे पुलिस की तैयारी पर सवाल उठना लाजमी है...

1. बुरहानुद्दीन की तबीयत जब से खराब थी तभी से ही दाऊदी बोहरा समुदाय के लोगों और मुंबई पुलिस के बीच कई मीटिंग हुई थी. उस समय पुलिस ने ऐसी किसी स्थिति के लिए तैयारी क्यों नहीं की?

2. बुरहानुद्दीन के निधन के बाद जब लोग उनके दीदार के लिए हजारों की तादाद में आने लगे तो पास के मुख्यमंत्री निवास की सुरक्षा और आस पास के पुलिस स्टेशन से पुलिस बंदोबस्त को सैफी महल के आसपास क्‍यों नहीं तैनात किया गया?

3. बुरहानुद्दीन दुनियाभर में काफी मशहूर हैं. अपने समुदाय के लोगों के लिए वो ईश्वर के सामान थे, ऐसे में पुलिस ने खुद क्यों नहीं अंदाजा लगाया कि कितने लोग उनकी आखिरी यात्रा में शरीक हो सकते हैं?

बुरहानुद्दीन का निधन शुक्रवार को दक्षिणी मुंबई स्थित उनके निवास स्थान पर दिल का दौरा पड़ने से हुआ था. वह 102 साल के थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें