scorecardresearch
 

महाराष्ट्रः कोरोना मरीजों को खराब खाना मिल रहा था, मंत्री ने ठेकेदार को जड़ा थप्पड़!

महाराष्ट्र के मंत्री बच्चू कडू का एक वीडियो वायरल हो रहा है. इसमें कथित तौर पर वो एक ठेकेदार को थप्पड़ मारते दिख रहे हैं. बताया जा रहा है कि अकोला के एक अस्पताल में कोरोना मरीजों को खराब क्वालिटी का खाना दिया जा रहा था, जिसके बाद गुस्साए मंत्री ने ठेकेदार को थप्पड़ जड़ दिया.

बच्चू कडू महाराष्ट्र सरकार में राज्य मंत्री हैं. (फाइल फोटो) बच्चू कडू महाराष्ट्र सरकार में राज्य मंत्री हैं. (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महाराष्ट्र सरकार में मंत्री हैं बच्चू कडू
  • ठेकेदार को थप्पड़ लगाने का वीडियो वायरल

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री बच्चू कडू का एक वीडिया सामने आया है. इसमें वो कथित तौर पर एक ठेकेदार को थप्पड़ लगाते हुए दिख रहे हैं. बताया जा रहा है कि मंत्री बच्चू कडू ने ठेकेदार को इसलिए थप्पड़ जड़ा, क्योंकि वो कोरोना मरीजों को खराब क्वालिटी का खाना दे रहा था. इससे नाराज होकर मंत्री ने थप्पड़ लगा दिया, जिसका वीडियो अब वायरल हो रहा है. 

मामला अकोला के एक सरकार मेडिकल कॉलेज का है, जहां कोरोना मरीजों को खराब क्वालिटी का खाना दिया जा रहा है. ये मामला सोमवार (5 अप्रैल) का बताया जा रहा है, जब मंत्री बच्चू कडू अचानक अस्पताल का दौरा करने पहुंच गए. वहां उन्होंने जब देखा कि मरीजों को खराब क्वालिटी का खाना मिल रहा है, तो वो भड़क गए. उन्होंने तुरंत ठेकेदार को वहां बुलाया और खाने की क्वालिटी को लेकर सफाई मांगी. इसके बाद जब ठेकेदार के जवाबों से वो संतुष्ट नहीं हुए, तो उन्होंने कथित तौर पर उसे थप्पड़ जड़ दिया. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कथित तौर पर सामने आया है कि अस्पताल में कोरोना मरीजों को खराब क्वालिटी का खाना दिया जा रहा था.

मामले के बाद बच्चू कडू ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उन्होंने जिले के सब-डिविजन ऑफिसर को अस्पताल में मरीजों को दिए जाने वाले खाने की क्वालिटी की जांच करने को कहा है. इसके अलावा उन्होंने खाने और उसकी सप्लाई को लेकर रिकॉर्ड मेंटेन नहीं करने पर भी जांच के आदेश दिए हैं.

कौन हैं बच्चू कडू?
बच्चू कडू ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत शिवसेना से की थी, लेकिन बाद में वो उससे अलग हो गए. महाराष्ट्र के अमरावती जिले के अचलपुर तहसील के विधायक ओमप्रकाश बाबूराव कडू उर्फ बच्चू कडू अपने दबंई और इन्साफ के लिए जाने जाते है. 50 साल के बच्चू कडू खुद को गरीबों का मसीहा समझते हैं और अपने समर्थको के बीच रॉबिनहुड के नाम से मशहूर हैं. 2004 में बच्चू कडू ने पहली बार निर्दलीय प्रत्याशी के दम पर अचलपुर विधानसभा विधायक सीट जीती थी. उसके बाद वो 2009, 2014 और 2019 में जीते. 2019 के चुनाव के बाद महाराष्ट्र में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की गठबंधन की सरकार बनने के बाद बच्चू कडू शिवसेना कोटे से राज्य मंत्री बनाए गए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें