scorecardresearch
 

मुंबई: तूफान तौकते का असर, BMC ने टाला 17 मई को होने वाला वैक्सीनेशन

कोरोना संकट के बीच मौसम विभाग की तरफ से चक्रवात तौकते के लेकर जारी की गई चेतावनी के मद्देनजर बीएमसी ने 17 मई को होने वाले वैक्सीनेशन कार्यक्रम को टाल दिया है. 

चक्रवात के मद्देनजर बीएमसी ने 17 मई को होने वाला वैक्सीनेशन टाल दिया है. (सांकेतिक तस्वीर) चक्रवात के मद्देनजर बीएमसी ने 17 मई को होने वाला वैक्सीनेशन टाल दिया है. (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चक्रवात तौकते के मद्देनजर लिया गया फैसला
  • 17 मई के बजाए 18 मई को दी जाएगी वैक्सीन की डोज
  • कोविशील्ड की दूसरी डोज के लिए करना होगा इंतजार

कोरोना संकट के बीच मौसम विभाग की तरफ से चक्रवात तौकते के लेकर जारी की गई चेतावनी के मद्देनजर बीएमसी ने 17 मई को होने वाले वैक्सीनेशन कार्यक्रम को टाल दिया है. 

बीएमसी कमिश्नर ने बताया कि आईएमडी की तरफ से भारी तीव्रता वाले तूफान तौकते को लेकर जारी की गई चेतावनी के मद्देनजर सोमवार यानी 17 मई को होने वाले वैक्सीनेशन कार्यक्रम को टाल गिया गया है.

इस संबंध में नई तारीखें जारी की गई हैं. अब मंगलवार, बुधवार और गुरुवार (18-20 मई) को वैक्सीनेशन का कार्यक्रम चलाया जाएगा. बीएमसी के मुताबिक भारत सरकार ने कोविशील्ड वैक्सीन के दोनों डोज के बीच 12 से 16 सप्ताह का अंतर रखने के निर्देश दिए हैं. ऐसे में हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को छोड़कर एक मार्च से वैक्सीन की डोज पाने वाले लोगों में कोई भी अभी दूसरे डोज के लिए पात्र नहीं है.

उन्होंने कहा कि इसलिए 18-20 मई के दौरान कोविशील्ड की फर्स्ट डोज के लिए 60 + उम्र के लोगों के लिए वॉक इन सुविधा का विस्तार किया जाएगा. ऐसे में 45 साल ऊपर की उम्र के लोगों 18 मई से होने वाले वैक्सीनेशन कार्यक्रम के दौरान कोविशील्ड की दूसरी डोज नहीं दी जाएगी. केवल 60 से ऊपर की उम्र के लोगों और फ्रंटलाइन वर्कर्स को ही 18 मई से कोविशील्ड की दूसरी डोज दी जाएगी.

अन्य लोगों को दूसरी डोज तय अंतराल के बाद ही मिल सकेगी. उन्होंने कहा कि 12 मई को जारी किए गए आदेश में बाकी नियम व शर्ते पहले की तरह से ही लागू रहेंगी.

बता दें कि अरब सागर से उठे चक्रवाती तूफान तौकते को लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी है. कर्नाटक में साइक्लोन के चलते हुई तेज बारिश की वजह से 4 लोगों की मौत हो गई और राज्‍य में कुल 73 गांव चक्रवाती तूफान से प्रभावित हुए हैं. चक्रवात तौकते गोवा के तटीय क्षेत्र से भी टकरा गया है. ऐसे में प्रभावित होने वाले राज्यों को एहतियात बरतने के निर्देश दिए गए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें