scorecardresearch
 

MP: पन्ना टाइगर रिजर्व में मिला बाघिन का शव, 10 दिन में चौथी मौत

पन्ना टाइगर रिजर्व में शनिवार को गहरीघाट परिक्षेत्र की कोटी बीट में बाघिन पी-213(32) मृत पाई गई. बाघिन की मौत की सूचना के बाद टाइगर रिजर्व की टीम मौके पर पहुंच गई. मौके का निरीक्षण ​करने के बाद ये पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि आखिर उसकी मौत कैसे हुई.  

पन्ना टाइगर रिजर्व में मिला बाघिन का शव पन्ना टाइगर रिजर्व में मिला बाघिन का शव
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 13 व 14 मई को किया गया था बाघिन का इलाज
  • जांच के लिए बाघिन का बिसरा रखा गया सुरक्षित
  • जांच में जुटी टाइगर रिजर्व की टीम 

मध्यप्रदेश में बाघों की मौत का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. इटारसी के पास ट्रेन से बाघ के शावक की मौत और बालाघाट में 7 मई को मृत मिले बाघ के बाद अब पन्ना टाइगर रिजर्व में बाघिन का शव मिला है. प्रथम दृष्टया बाघिन की मौत प्राकृतिक नजर आ रही है. इसके बावजूद बाघिन का विसरा जांच के लिए सुरक्षित रख लिया गया है. 

पैर में आ गई थी सूजन 
रेडियो कॉलर बाघिन पी-213 (32) का शव पन्ना टाइगर रिजर्व के गहरीघाट क्षेत्र की कोरी बीट में मिला है. बाघिन के शव को देखने पर पाया गया कि उसके बाएं पैर में सूजन थी.

बताया जा रहा है कि 12 मई को उसके पैर में सूजन की जानकारी वन विभाग के अफसरों को मिल गई थी जिसके बाद 13 और 14 मई को बाघिन का इलाज भी किया गया. लेकिन 15 मई को उसकी मौत हो गई. प्रथम दृष्टया घटनास्थल पर किसी अवैध गतिविधियों के निशान नहीं मिले हैं और बाघिन की मौत प्राकृतिक नजर आ रही है. इसके बावजूद बाघिन का विसरा जांच के लिए सुरक्षित रख लिया गया है. 

10 दिनों में चौथी घटना 
मध्यप्रदेश में बीते कुछ दिनों से लगातार बाघों की मौत की खबरें आ रही है. बीते 10 दिनों में ही यह चौथी घटना है. इससे पहले 14 मई को बांधवगढ़ नेशनल पार्क में बाघ का शव मिला था. उसके पहले 8 मई को कान्हा टाइगर रिजर्व के भैंसाघाट रेंज में बाघ का शव मिला था. इसके अलावा हाल में बैतूल जिले के भौरा रेंज में ट्रेन से टकराकर बाघ के शावक की मौत हो गई थी. इसी तरह की एक और घटना में इटारसी के पास मिडघाट में ट्रेन से टकराकर बाघ का शावक मारा गया था.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें