scorecardresearch
 

फायरिंग के 8 दिन बाद मंदसौर पहुंचे शिवराज, किसानों के परिवार ने रखी 3 मांगें

पिछले काफी दिनों से मध्य प्रदेश के मंदसौर में किसान आंदोलन से बिगड़े माहौल के बाद बुधवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पहुंच गए हैं.

किसानों को मनाएंगे शिवराज? किसानों को मनाएंगे शिवराज?

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बुधवार को मंदसौर के बड़वन गांव पहुंचे. शिवराज ने पीड़ित परिवारों से मुलाकात की. परिवारजनों ने सीएम के सामने इंसाफ की मांग रखी.

1. परिजनों का कहना है कि सरकार घनश्याम धाकड़ के 5 वर्षीय बेटे और 2 महीने की बेटी की पूरी जिम्मेदारी लें. सरकार पढ़ाई की जिम्मेदारी ले.

2. परिजनों ने मांग की है कि सरकार उन पुलिसवालों पर आपराधिक केस दर्ज करें जिन्होंने घनश्याम की पिटाई की.

3. गांववालों ने मांग की है कि गांव के जिन अन्य किसानों को जेल में बंद किया गया है उन्हें छुड़ाया जाए

पुलिसिया गोलीबारी में मंदसौर में 6 किसानों की मौत हो गई थी, जिसके बाद आंदोलन ने हिंसात्मक रुप लिया था. शिवराज सिंह मृतक किसानों के परिवार से मिलेंगे. इससे पहले मंगलवार को पाटीदार नेता हार्दिक पटेल और कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मंदसौर गए थे, लेकिन उन्हें वहां गिरफ्तार कर लिया गया था. इसके अलावा कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया भी बुधवार को भोपाल पहुंचेंगे. सिंधिया वहां पर 72 घंटे के लिए सत्याग्रह करेंगे.

3 किसान कर चुके हैं खुदकुशी

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश में अभी तक 3 किसानों ने खुदकुशी कर ली है. तीनों किसानों ने 24 घंटे के अंतराल के अंदर ही खुदकुशी की थी. इन किसानों में म.प्र. के विदिशा के शम्साबाद में हरि सिंह जाटव ने खुदकुशी कर ली है. वहीं होशंगाबाद जिले के सियोनी मालवा गांव में कर्ज में दबे एक किसान ने खुदकुशी कर ली थी. किसान का नाम माखनलाल बताया जा रहा है.

इससे पहले सोमवार को ही रेहटी तहसील में आने वाले ग्राम जाजना के एक किसान ने छह लाख रुपए के कर्ज से तंग आकर जहर खाकर मौत को गले लगा लिया था. जानकारी के अनुसार ग्राम जाजना निवासी दुलचंद (55) पिता गोविन्द कीर ने सोमवार को अपने ही घर में कीटनाशक पी ली. मृतक के पुत्र शेर सिंह ने बताया घर पर कोई नहीं था, उनके पिता के अचेत होने की सूचना पर उन्हें रेहटी अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया.

ज्योरादित्य सिंधिया और हार्दिक हुए थे गिरफ्तार

कांग्रेस नेता ज्योरादित्य सिंधिया को मध्य प्रदेश के जावरा में गिरफ्तार कर लिया गया है. सिंधिया को रतलाम जिले के ढोढर इलाके में रोका गया था, वह किसानों से मिलने मंदसौर जा रहे थे. मंदसौर जाने से पहले सिंधिया ने कहा कि हम लोग उन्हें बेनकाब करने आए हैं. रक्षक जब भक्षक बन जाए और फिर उपवास पर बैठ जाए तो ये उपवास नहीं उपहास होता है.

इससे पहले गुजरात के पाटीदार नेता हार्दिक पटेल मंगलवार को मध्यप्रदेश के नीमच पहुंचे थे. यहां से हार्दिक मंदसौर जाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन पहले ही उन्हें पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. हालांकि, बाद में पुलिस ने रिहा कर दिया. किसानों पर गोलीबारी की घटना के बाद हार्दिक पेटल ने शिवराज सिंह सरकार की आलोचना की थी.

शिवराज ने किया था उपवास

गौरतलब है कि राज्य में शांति बहाली के मकसद से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान बीते शनिवार उपवास पर बैठे थे, उन्होंने लगभग 27 घंटे के बाद अपना उपवास तोड़ा था. शिवराज सिंह चौहान ने कहा था कि हिंसा के लिए किसान जिम्मेदार नहीं हैं. शिवराज ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की साजिश से आंदोलन हिंसक हुआ है.

बता दें कि कर्ज माफी समेत समर्थन मूल्यों जैसी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर 6 जून को मंदसौर में पुलिस ने फायरिंग कर दी थी. पुलिस फायरिंग में 6 किसानों की मौत हो गई थी. जिसके बाद किसानों के आंदोलन ने और उग्र रूप ले लिया था. पूरे प्रदेश में किसानों का प्रदर्शन अब भी जारी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें