scorecardresearch
 

MP: राहत कार्य ना होने से बाढ़ पीड़ित परेशान, अधिकारियों की गाड़ी को घेरा, तोड़फोड़

देश के अलग-अलग हिस्सों में बारिश और बाढ़ के कारण बुरा हाल है. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के भी कई इलाके इस वक्त बाढ़ की वजह से परेशान हैं. इस बीच लोगों का गुस्सा भी बढ़ने लगा है.

X
श्योपुर में अधिकारियों पर फूटा लोगों का गुस्सा श्योपुर में अधिकारियों पर फूटा लोगों का गुस्सा
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मध्य प्रदेश के श्योपुर में बाढ़ के कारण बुरा हाल
  • अधिकारियों पर फूटा स्थानीय लोगों का गुस्सा

देश के अलग-अलग हिस्सों में बारिश और बाढ़ के कारण बुरा हाल है. मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के भी कई इलाके इस वक्त बाढ़ की वजह से परेशान हैं. इस बीच लोगों का गुस्सा भी बढ़ने लगा है. मध्य प्रदेश के श्योपुर (Sheopur) में भारी बारिश के चलते आई भीषण बाढ़ के बाद जिला प्रशासन और नगरपालिका द्वारा राहत कार्य में बरती जा रही लापरवाही के खिलाफ बाढ़ पीड़ितों का गुस्सा फूट रहा है.

ऐसी ही एक बानगी उस समय देखने को मिली जब परेशान बाढ़ प्रभावित लोगों के बीच से नगरपालिका की गाड़ी गुजरी, तो उन्होंने गाड़ी को घेर कर तोड़फोड़ शुरू कर दी. बमुश्किल गाड़ी में बैठे कर्मचारी अपनी जान बचाकर वापस लौट सके.

अधिकारियों पर फूटा लोगों का गुस्सा


सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा यह वीडियो 5 अगस्त दोपहर 12 बजे जयस्तम्भ चौक का है. बाढ़ पीड़ितों ने राहत नहीं मिलने के बाद यहां जाम लगाकर प्रदर्शन किया. इसी दौरान मौके पर आई नगरपालिका के हेल्थ इंस्पेक्टर की सरकारी गाड़ी को घेर लोगों ने बवाल खड़ा कर दिया. 

कर्मचारियों की गाड़ी पहुंचते ही लोग उसमें बैठे अधिकारियों पर टूट पड़े और कुप्रबंधन को लेकर खरी-खोटी सुनाई. स्थानीय लोगों को आरोप है कि भारी बारिश से मची तबाही से लोग बेहाल हैं. वहीं, प्रशासन की ओऱ से राहत कार्य नहीं किया जा रहा है, काफी इलाके अभी भी इससे वंचित हैं. ना पीने का पानी मिल रहा है और बिजली को लेकर भी समस्या आ रही हैं.

श्योपुर इलाके में लगातार हो रही बारिश के कारण हालात काफी बिगड़ गए हैं, यहां पर अबतक दो लोगों की मौत भी हो चुकी है. जबकि सैकड़ों घरों में पानी भर गया है, बिजली-पीने का पानी-इंटरनेट जैसी सुविधाएं अभी नहीं मिल पा रही हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें