scorecardresearch
 

खरगोन: हिंसा के बाद से लापता महिला 12 दिन बाद CCTV में दिखी! बच्चों को ढूंढने निकली थी

खरगोन (khargone news) में रामनवमी पर हिंसा हुई थी. इस हिंसा के दौरान एक महिला लापता हो गई थी, जिसका अब पता चल गया है.

X
दंगों में बच्चों को ढूंढने निकली थी महिला दंगों में बच्चों को ढूंढने निकली थी महिला
स्टोरी हाइलाइट्स
  • खरगोन में 10 अप्रैल को रामनवमी पर हिंसा हुई थी
  • हिंसा मामले में कुल 63 एफआईआर दर्ज हुई हैं

मध्य प्रदेश के खरगोन में रामनवमी पर हुई हिंसा (khargone violence) के दौरान जो लक्ष्मी नाम की महिला लापता हो गई थी, अब उसका पता चल गया है. लापता हुई महिला खंडवा रेलवे स्टेशन पर अपने रिश्तेदार के साथ जाती दिखाई दी है. रामनवमी जुलूस के दौरान हिंसा भड़कने के बाद महिला घर से बाहर निकली थी. महिला ने कहा था कि वह अपने बच्चों को ढूंढने जा रही है. लेकिन उसके बाद वह वापस नहीं लौटी, जिसके बाद किसी अनहोनी की आशंका जताई जाने लगी थी.

महिला के लापता होने के बाद अफवाह फैली थी कि वह भी हिंसा का शिकार हो गई होगी. लेकिन अब सीसीटीवी में महिला के दिखने के बाद जांच में लगी पुलिस को राहत मिली है.

यह भी पढ़ें - खरगोन हिंसा: इबरिस खान मौत मामले में 5 आरोपी गिरफ्तार, एक पर लगा NSA

जो सीसीटीवी अब पुलिस को मिला है उसमें 29 साल की महिला 10 अप्रैल की रात करीब 8:25 पर नीले शर्ट में बैग ले जा रहे युवक के पीछे जाती दिखाई दी. ये सीसीटीवी फुटेज गुरुवार 21 अप्रैल को पुलिस को मिला है.

महिला के दो बच्चे भी हैं जिसमें एक बेटा और एक बेटी शामिल है. एसपी रोहित काशवाना कहना है लक्ष्मी जो लापता हुई थी उसका हमने पूरा रिकॉर्ड चेक किया है, महिला अपने पति के रिश्तेदार के साथ गई थी. पुलिस ने आगे कहा कि महिला बालिग है और स्वयं अपनी मर्जी से गई है.

यह भी पढ़ें - Khargone Violence: दंगे भड़कने की सूचना मिलते ही बच्चों को ढूंढने निकली थी महिला, अब तक नहीं लौटी

बता दें कि मध्य प्रदेश सरकार खरगोन में हुई हिंसा के आरोपियों के खिलाफ सख्त कदम उठाने में लगी है. इसी कड़ी में हिंसा के फरार 106 फरार आरोपियों पर भी 10-10 हजार रुपये का इनाम घोषित किया गया है. पुलिस के मुताबिक, खरगोन हिंसा मामले में कुल 63 एफआईआर दर्ज हुई हैं और इनके तहत 265 को आरोपी बनाया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें