scorecardresearch
 

कांग्रेस को बढ़त के बाद कमलनाथ-सिंधिया में CM बनने की होड़

मंगलवार को जैसे ही रुझानों में कांग्रेस आगे आई पार्टी कार्यकर्ताओं ने मध्य प्रदेश कांग्रेस दफ्तर का रुख कर लिया. लेकिन जिस चीज़ ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा वह था समर्थकों का अपने नेता को सीएम का चेहरा बताना.

ज्योतिरादित्य सिंधिया (फोटो-रवीश) ज्योतिरादित्य सिंधिया (फोटो-रवीश)

मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में मतगणना के बीच भले ही कांग्रेस और बीजेपी में कांटे का मुकाबला रहा, लेकिन पार्टी कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस की न केवल सरकार बनवा दी है बल्कि अपने अपने नेताओं को सीएम बनाने की मांग कर दी है.

मंगलवार को जैसे ही रुझानों में कांग्रेस आगे आई पार्टी कार्यकर्ताओं ने प्रदेश कांग्रेस दफ्तर का रुख कर लिया. लेकिन जिस चीज़ ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा वह था समर्थकों का अपने नेता को सीएम का चेहरा बताना. कांग्रेस में कमलनाथ समर्थकों ने एक दिन पहले उनके सीएम बनने का पोस्टर लगाए थे तो मतगणना वाले दिन सिंधिया समर्थकों ने उनके बड़े- बड़े कटआउट लगा दिए और उनके सीएम बनने के लिए जमकर नारेबाजी की.

कांग्रेस दफ्तर के बाहर सिंधिया के दूसरे पोस्टरों में भी कमलनाथ से ज्यादा बड़ा चेहरा ज्योतिरादित्य सिंधिया का ही दिखाया गया है, जो साफ इशारा कर रहा है कि कांग्रेस की सरकार बनने की सूरत में पार्टी के अंदर सीएम पद की रेस में दोनों नेताओं के बीच कड़ा मुकाबला होगा.

पीसीसी में लहराया भगवा ध्वज

कांग्रेस को आगे आता देख कार्यकर्ताओं ने एक बार फिर सॉफ्ट हिंदुत्व की छवि दिखाई. प्रदेश के अलग अलग हिस्सों से आए कार्यकर्ता भगवा झंडे, हाथों में गदा लिए कांग्रेस दफ्तर में इकट्ठा होना शुरू हो गए. कार्यकर्ताओं ने बताया कि वो ये गदा और भगवा ध्वज कमलनाथ को बतौर तोहफा देने के लिए धार से लेकर भोपाल आए हैं.

मतगणना से जुड़ी ली जानकारी

कांग्रेस कार्यकर्ताओं के जश्न के बीच कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य सिंधिया पीसीसी पहुंचे और कंट्रोल रूम में बैठकर मतगणना से जुड़ी पल पल की जानकारी ली.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें