scorecardresearch
 

मध्य प्रदेशः सिंधिया की भक्ति में डूबीं मंत्री इमरती देवी, कहा- जब तक सांस है...

मंत्री इमरती देवी को ज्योतिरादित्य सिंधिया का कट्टर समर्थक माना जाता है. ऐसा पहली बार नहीं है, जब इमरती देवी ने सिंधिया के समर्थन में बयान दिया हो. वह पहले भी कई बार बयान दे चुकी हैं.

कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (फोटो-ट्विटर) कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया (फोटो-ट्विटर)

  • राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए भी इमरती देवी ने सिंधिया को मुफीद बताया था
  • सिंधिया को स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष बनाए जाने पर जताई थी नाराजगी

मध्य प्रदेश के कमलनाथ सरकार की मंत्री इमरती देवी एक कार्यक्रम में सिंधिया भक्ति करती नजर आईं. कार्यक्रम के दौरान मंच से इमरती देवी ने कहा, 'भगवान भी आ जाएं तो उनसे भी कहूंगी मुझे तो बनाया है श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया ने, जब तक जिंदा रहूंगी, जब तक सांस चलेगी, श्रीमंत महाराज साहब की पूजा करती रहूंगी.'

दरअसल, मंत्री इमरती देवी को ज्योतिरादित्य सिंधिया का कट्टर समर्थक माना जाता है. ऐसा पहली बार नहीं है, जब इमरती देवी ने सिंधिया के समर्थन में बयान दिया हो. वह पहले भी कई बार ज्योतिरादित्य सिंधिया को कांग्रेस की राज्य इकाई और कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए उपयुक्त विकल्प बता चुकीं हैं.

इससे पहले कांग्रेस नेता और पूर्व सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के लिए स्क्रीनिंग कमेटी का अध्यक्ष बनाए जाने पर भी इमरती देवी ने नाराजगी जताई थी. उन्होंने कहा था कि महाराज जानें, पार्टी जानें या राहुल गांधी जानें. उन्होंने कहा था कि अगर महाराज को कोई जिम्मेदारी देनी है तो मध्यप्रदेश में दें. महाराष्ट्र में महाराज को कौन पूछेगा.

पिछले साल प्रदेश में विधानसभा चुनाव के बाद जब मुख्यमंत्री पद के लिए कमलनाथ और ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम चल रहे थे, तब भी इमरती देवी ने सिंधिया की दावेदारी का समर्थन किया था. राहुल गांधी के इस्तीफे से रिक्त हुए कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद के लिए भी इमरती देवी ने सिंधिया को मुफीद बताया था. राष्ट्रीय अध्यक्ष के लिए सिंधिया के नाम का समर्थन करने वालों में इमरती ही नहीं प्रदेश के कई नेता थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें