scorecardresearch
 

व्यापम: कवरेज के दौरान आजतक के पत्रकार अक्षय की मौत, CM ने SIT जांच का दिया भरोसा

मध्य प्रदेश के हाईप्रोफाइल व्यापम घोटाले की कवरेज के दौरान आजतक के स्पेशल कॉरेस्पॉन्डेंट अक्षय सिंह की अचानक मौत हो गई. झाबुआ के पास अक्षय सिंह की मेघनगर में शनिवार को उनका निधन हुआ. हालांकि उनकी मौत के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है.

india today special correspondent akshay singh india today special correspondent akshay singh

मध्य प्रदेश के हाई प्रोफाइल व्यापम घोटाले की कवरेज के दौरान आजतक के विशेष संवाददाता अक्षय सिंह की अचानक मौत हो गई है. अक्षय सिंह की शनिवार को झाबुआ के पास मेघनगर में मौत हुई. मौत के कारणों का अभी तक पता नहीं चल पाया है, जबकि सीएम श‍िवराज सिंह चौहान ने SIT जांच का भरोसा दिया है. अक्षय का शव मध्य प्रदेश से दिल्ली लाया जा रहा है.

राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस घटना पर शोक व्यक्त किया है. उन्होंने आश्वासन दिया है कि राज्य सरकार मामले की जांच में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ेगी और मामले की SIT जांच करवाएगी.

निगम बोध घाट पर अंतिम संस्कार
पोस्टमार्टम के बाद मध्य प्रदेश से अक्षय का शव दिल्ली लाया जा रहा है. शव दिल्ली पहुंचने के बाद दोपहर दो बजे निगम बोध घाट पर उनका अंतिम संस्कार होगा.

चार दिनों से घोटाले को कर रहे थे कवर
अक्षय पिछले चार दिनों से मध्य प्रदेश की अलग-अलग जगहों पर जाकर व्यापम घोटाला कवर कर रहे थे. तीन लोगों की टीम इस घोटाले पर स्पेशल रिपोर्ट तैयार करने मेघनगर गई थी.

इंटरव्यू लेने के दौरान बिगड़ी तबीयत
अक्षय शनिवार को नम्रता डामोर के परिजनों का इंटरव्यू लेने मेघनगर गए. साल 2012 में नम्रता डामोर का नाम व्यापम घोटाले में आने के बाद उज्जैन में रेल पटरियों के पास उनका शव संदिग्ध परिस्थ‍ितियों में बरामद किया गया.

नम्रता के पिता मेहताब सिंह डामोर ने कहा, 'आज दोपहर घर पर एक रिपोर्टर सहित चैनल के तीन लोग आए थे. बातचीत होने के बाद संबंधित कागजात की फोटोकॉपी कराने हमारा एक परिचित बाजार गया.' उन्होंने कहा, 'रिपोर्टर सहित चैनल के लोग जब उनके घर के बाहर फोटोकॉपी का इंतजार कर रहे थे, तभी अक्षय के मुंह से अचानक झाग निकलने लगा और उन्हें तत्काल सिविल अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें एक निजी अस्पताल भेज दिया गया.'

हालांकि उस निजी अस्पताल से अक्षय को मध्य प्रदेश की सीमा से लगे गुजरात के दाहोद भी ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया.

मौत की जांच मेरी जिम्मेदारी: शिवराज सिंह
सीएम शिवराज सिंह ने आश्वासन दिया है कि अक्षय सिंह की मौत मामले में वो कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. उन्होंने कहा कि SIT इस मामले की पूरी तफ्तीश करेगी. सीएम ने कहा, 'गुजरात के दाहोद में डॉक्टरों की टीम पत्रकार का पोस्टमार्टम कर रही है, जिसकी वीडियोग्राफी भी हो रही है.'

'संदेहास्पद मौत की शिकायत नहीं'
आजतक से फोन पर हुई बातचीत में सीएम चौहान ने कहा कि 4-5 दिन पहले तक यानी नरेंद्र कैलाश सिंह तोमर और राजेंद्र आर्य की मौत से पहले तक किसी भी आरोपी की मौत पर परिजनों ने संदिग्ध मौत की शिकायत नहीं की. उन्होंने कहा कि विपक्ष ने एकाएक मीडिया में इस बात को उछाला है.

'व्यापम घोटाले की CBI जांच से परहेज नहीं'
मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि व्यापम घोटाले की जांच हाईकोर्ट के अंतर्गत है इसलिए उनकी सरकार इसमें कोई फैसला नहीं ले सकती. उन्होंने कहा कि इस घोटाले की सीबीआई जांच से उन्हें कोई आपत्ति नहीं है. हालांकि कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा कि सीएम जनता को भ्रमित कर रहे हैं. उन्होंने कहा, 'सीएम को सीबीआई जांच के लिए बस एक चिट्ठी लिखने की जरूरत है.'

अक्षय सिंह की मौत संदिग्ध: दिग्विजय
कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने पत्रकार अक्षय सिंह की मौत पर संवेदना प्रकट की. साथ ही उन्होंने कहा कि संवाददाता की मौत संदिग्ध है. आजतक से फोन पर बातचीत में दिग्विजय ने सवाल उठाते हुए कहा, 'शनिवार सुबह 8 बजे अक्षय जब इंदौर से झाबुआ रवाना हुए थे तब वो स्वस्थ थे. फिर अचानक दो मिनट के अंदर उनके मुंह से झाग कैसे निकलने लगे? ट्विटर पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि उन्होंने इस सिलसिले में अक्षय को आगाह भी किया था.'

पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर तय होगी आगे की जांच: बाबूलाल गौर
मध्य प्रदेश के गृह मंत्री बाबूलाल गौर ने कहा है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने पर सरकार मामले की आगे जांच करेगी. उन्होंने कहा, 'पहले पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने दीजिए. उसके बाद हम मामले की आगे की जांच तय करेंगे.'

अक्षय सिंह के निधन पर राहुल गांधी ने जताया दुख
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने अक्षय सिंह की मौत पर शोक व्यक्त किया. उन्होंने ट्वीट किया-

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें