scorecardresearch
 

पंकजा मुंडे ने आरोपों पर दी सफाई, कहा- मैंने नहीं किया कोई घोटाला

चिक्की घोटाले और ठेका विवाद में उलझी महाराष्ट्र की मंत्री पंकजा मुंडे ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सफाई दी. फड़नवीस सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे ने कहा कि मेरा उद्देश्य एक-एक पैसा बचाना था.

X
पंकजा मुंडे, बीजेपी नेता
पंकजा मुंडे, बीजेपी नेता

चिक्की घोटाले और ठेका विवाद में उलझी महाराष्ट्र की मंत्री पंकजा मुंडे ने बुधवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सफाई दी. फड़नवीस सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री पंकजा मुंडे ने कहा कि मेरा उद्देश्य एक-एक पैसा बचाना था.

उन्होंने कहा, 'किसी के फेवर का सवाल ही नहीं उठता . विदेश जाने से पहले ही मैंने मुख्य सचिव से मिलकर अपना पक्ष स्पष्ट कर दिया था. आरोप लगने के बाद मैं 56 घंटे तक सो नहीं सकी और आरोपों का अध्ययन करती रही.'

पंकजा ने कहा कि जिन कॉन्ट्रैक्ट की बात हो रही है वे कांग्रेस-एनसीपी के शासन के समय से ही सप्लाई कर रहे हैं. और खरीददारी कॉन्ट्रैक्ट रेट के मुताबिक ही हुई है.

'मेरी खरीददारी को घोटाला बताना, राजनीतिक आरोप'
महाराष्ट्र के दिग्गज नेता रहे गोपीनाथ मुंडे की बेटी पंकजा ने अपनी सफाई में कहा, '2010 से 2014 के बीच 408 करोड़ की खरीददारी बिना ई-टेंडरिंग के हुई. विपक्ष उसे खरीददारी बता रहा है और मेरी खरीददारी को घोटाला कह रहा है. यह राजनीतिक आरोप है.'

मुख्यमंत्री का आदेश ना मानने के आरोप पर राज्य की महिला एवं बाल विकास मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री का आदेश अप्रैल में आया और खरीददारी फरवरी में हुई है.

गौरतलब है कि पंकजा मुंडे की प्रेस कॉन्फ्रेंस में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ विधायक भी मौजूद रहे. इसके अलावा उनकी बहन और सांसद प्रीतम मुंडे के साथ आरएसपी लीडर और एमएलसी महादेव जानकर, एमएलसी माधुरी मीसल, विधायक संगीता थोम्बरे और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी मौजूद रहे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें