scorecardresearch
 

लव-सेक्स और धोखा: मैट्रिमोनियल साइट से दोस्ती और फिर बनाया संबंध, रुपया लेकर भी हुआ फरार

एक व्यक्ति ने पहले दोस्ती की फिर होटल में संबंध बनाया और एक बार जब लड़की का भरोसा जीत लिया तो उससे पैसा लेकर फरार हो गया. पुलिस इस मामले में आरोपी की तलाश कर रही है.

X
सांकेतिक फोटो सांकेतिक फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • होटल में मुलाकात के दौरान बनाए संबंध
  • मुलाकात के बाद लौटा तो फोन उठाना बंद

डिजिटल दुनिया के इस दौर में बड़ी संख्या में युवा दोस्ती करने या फिर जीवनसाथी चुनने के लिए सोशल मीडिया का सहारा लेते हैं. लेकिन सोशल मीडिया पर यही जान पहचान कई बार खतरनाक साबित हो जाती है. भोपाल में रहकर इंजीनियरिंग करने वाली 24 साल की एक छात्रा के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ. मैट्रिमोनियल साइट पर जान पहचान के बाद एक युवक ने भोपाल की होटल में आकर इंजीनियरिंग स्टूडेंट के साथ पहले तो संबंध बनाए और फिर उसका भरोसा जीत कर 23000 रुपये भी उधारी के नाम पर ले लिया और फरार हो गया. 

मैट्रिमोनियल साइट से बातचीत आगे बढ़कर फोन लगाने और चैटिंग तक पहुंची
एमपी नगर थाने के टीआई सुधीर अर्जरिया ने आज तक से बात करते हुए बताया कि पीड़ित छात्रा अन्य शहर से है, जो भोपाल में रहकर इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रही है. पीड़िता ने जीवन साथी की तलाश में अपना प्रोफाइल एक मैट्रिमोनियल साइट पर डाला था. कुछ दिनों के बाद पीड़िता से एक युवक ने संपर्क किया और अपना नाम संदीप भट्ट निवासी दिल्ली बताया. मैट्रिमोनियल साइट से बातचीत आगे बढ़कर फोन लगाने और चैटिंग तक पहुंच गई. दोनों ने एक दूसरे को मिलने के लिए कहा और भोपाल में एक होटल पर मिलना तय हुआ. 

होटल में मुलाकात के दौरान बनाए संबंध
होटल में मुलाकात के दौरान पीड़ित और आरोपी के बीच शारीरिक संबंध भी बन गए. इसके बाद आरोपी वापस चला गया, लेकिन कुछ दिनों के बाद वह दोबारा भोपाल आया और होटल में पीड़िता के साथ 2 से 3 दिन तक रुका. इस दौरान दोनों के बीच एक बार फिर से शारीरिक संबंध बने. आरोपी ने तब तक पीड़िता का भरोसा जीत लिया और उधार के नाम पर उससे करीब 23 हज़ार रुपए ले लिए. आरोपी ने पीड़िता को यह भी बताया था कि दिल्ली में उसके 2 फ्लैट है. 

मुलाकात के बाद लौटा तो फोन उठाना बंद
वापस जाने के कई दिनों बाद तक जब पीड़िता के पास आरोपी का कॉल नहीं आया तो उसने आरोपी से संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उसका फोन लगातार स्विच ऑफ बताता रहा. कई दिनों तक कोशिश करने के बाद भी जब पीड़िता की संदीप से बात नहीं हुई तो उसने खुद के साथ हुई घटना की शिकायत एमपी नगर थाने में आकर कर दी जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा 376 और 420 के तहत मामला दर्ज कर लिया. पुलिस की तफ्तीश में सामने आया है कि आरोपी ने होटल में बुकिंग के लिए जो आधार कार्ड दिया था उस पर सुनील नाम लिखा हुआ है ऐसे में सवाल उठ रहे हैं की होटल ने किसी और के नाम से कमरा बुक क्यों किया. फिलहाल पुलिस आधार कार्ड पर लिखे पते और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपी की तलाश में जुट गई है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें