scorecardresearch
 

भोपाल: पुलिस से भिड़े राष्ट्रीय शिक्षा नीति के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे NSUI के सदस्य, हुआ लाठीचार्ज

मध्य प्रदेश के भोपाल में कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई के सदस्यों ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विरोध में प्रदर्शन किया. यहां रोके जाने पर वे पुलिस से भिड़ गए. इस दौरान पत्थरबाजी और लाठीचार्ट के मामले भी देखने को मिले. पुलिस ने इन लोगों पर लाठीचार्ज किया.

Protest Protest
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राष्ट्रीय शिक्षा नीति के खिलाफ NSUI का प्रदर्शन
  • प्रदर्शनकारियों पर पुलिस का लाठीचार्ज

मध्य प्रदेश के भोपाल में शुक्रवार को कांग्रेस की छात्र इकाई एनएसयूआई के सदस्यों ने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विरोध में प्रदर्शन किया. यहां रोके जाने पर वे पुलिस से भिड़ गए. इस दौरान पत्थरबाजी और लाठीचार्ज के मामले भी देखने को मिले. गौरतलब है कि कांग्रेस के युवा नेता राज्य सरकार द्वारा अपनाई जा रही राष्ट्रीय शिक्षा नीति के विरोध में पार्टी कार्यालय से मुख्यमंत्री आवास तक मार्च कर रहे थे.

हुई पत्थरबाजी और लाठीचार्ज

आरोप है कि इन युवा नेताओं की ओर से पत्थरबाजी के बाद पुलिस ने उनपर लाठीचार्ज कर दिया. फिलहाल स्थिति नियंत्रण में है और इलाके में सुरक्षा इंतजाम पुख्ता कर दिए गए हैं. बता दें कि मध्य प्रदेश सरकार बीते साल केंद्र द्वारा घोषित नेशनल एजुकेशन पॉलिसी (राष्ट्रीय शिक्षा नीति) को लागू करने जा रही है. इस नई शिक्षा नीति में निर्देश माध्यम में मातृ भाषा के प्रयोग पर फोकस किया गया है. साथ ही किसी एक भाषा के प्रयोग को अनिवार्य नहीं किया गया है. इसमें कहा गया है कि कक्षा 8 तक लोकल भाषा के प्रयोग को प्राथमिकता दी जाए.

क्या है नई शिक्षा नीति

नई नीति के अनुसार, पारंपरिक 10+2 स्कूल पाठ्यक्रम संरचना को क्रमशः 3-8, 8-11, 11-14 और 14-18 वर्ष की आयु के अनुरूप 5+3+3+4 संरचना द्वारा रिप्लेस किया जाना है. इसका मतलब है कि छात्रों को 3 साल की प्री स्कूलिंग के बाद 13 साल की स्कूली शिक्षा अनिवार्य है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×