scorecardresearch
 
मध्य प्रदेश

मध्य प्रदेश के ये रेलवे स्टेशन हो रहे हाईटेक, मिलेंगी एयरपोर्ट जैसी लग्जरी सुविधाएं

Habibganj Railway Station
  • 1/7

मध्य प्रदेश में रेलवे यात्रियों को अब जल्द ही रेलवे प्लेटफार्म पर एयरपोर्ट का एहसास होगा. दरअसल, रेलवे बोर्ड ने पश्चिमी मध्य रेलवे (West Central Railway) के स्टेशनों को भी एयरपोर्ट की तर्ज पर विकसित करने का कार्य शुरू कर दिया है. स्टेशनों पर पुनर्विकास योजना (Redevelopment Scheme) के तहत एयरपोर्ट स्तर की आधुनिक सुविधाएं दी जाएंगी. इसी कड़ी में पश्चिम मध्य रेलवे के जबलपुर रेलवे स्टेशन (Jabalpur) और हबीबगंज रेलवे स्टेशन (Habibganj Railway Station) को नया लुक दिया जा रहा है.

MP Habibganj Station
  • 2/7

जबलपुर के रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर ट्रांसलूसेंट स्ट्रेच फैब्रिक फाल्स सीलिंग है. जो प्लेटफार्म नंबर 1 के कॉनकोर्स एरिया में लगाई गई है. इसके ऊपर एलईडी लाइट्स लगाई गई हैं. जिसकी सुंदरता आंखों को वास्तविक आसमान जैसा महसूस कराती है. मध्य प्रदेश में इस प्रकार का यह पहला प्रयोग है. इसी तरह का सौंदर्यकरण पूरे रेलवे स्टेशन का किया जा रहा है. 

Habibganj station
  • 3/7

प्लेटफार्म नबंर 6 की तरफ एनेक्सी बिल्डिंग मुख्य स्टेशन गेट के बाहरी हिस्से पर लगाया जा रहा है. ये मेटल फसाड पाउडर कोटेड छिद्रित एल्युमिनियम शीट की होती है. इस धातु का अग्रभाग गैर भार वहन करने वाला है, जो बिल्डिंग को मौसम के प्रभाव से बचाता है. 

Airport like Railway Station
  • 4/7

पश्चिम मध्य रेलवे में पहली बार उच्च तकनीक की मेटल उपयोग की गई है. सफेद रंग से बिल्डिंग के लुक को अधिक सुंदर बनाया जा रहा है. कुल 1600 वर्गमीटर फसाड एरिया में यह कार्य किया जा रहा है. वहीं, प्लेटफार्म नंबर 6 के दूसरे गेट की बिल्डिंग के बाहरी फेस पर ग्लास फाइबर कंक्रीट सरंचना का उपयोग किया जा रहा है. जो टिकाउ और सौन्दर्य युक्त है.

हबीबगंज स्‍टेशन
  • 5/7

हबीबगंज स्‍टेशन को पूरी तरह से री-डेवलप किया जा रहा है. विकास कार्य पूरा होने पर स्‍टेशन में एक कॉन्‍कोर्स होगा. जिसमें एयरपोर्ट की तरह दुकानें और कैफेटेरिया शामिल होंगे. इसमें यात्रियों के बैठने के लिए एक वेटिंग लॉन्‍ज होगा. जिसमें मॉडर्न टॉयलेट्स मिलेंगे. यही नहीं, स्‍टेशन में एक म्‍यूजियम और गेमिंग जोन भी होगा.

Railway redevelpment
  • 6/7

विकास कार्य पूरा होने के बाद हबीबगंज स्‍टेशन में 900 यात्री एयर कॉन्‍कोर में बैठ सकेंगे. एक साथ एक प्लेटफार्म पर 2000 हजार यात्री ट्रेनों का इंतजार कर सकते हैं. इसके अलावा 1500 यात्री एक साथ एक अंडरग्राउंड सब-वे से गुजर सकेंगे. स्‍टेशन में ऐसे दो सब-वे बनाए गए हैं. वहीं, 36 मीटर ऊंची बिल्डिंग में 2500 से अधिक यात्रियों के ठहरने की व्‍यवस्‍था होगी.

Indian Railway redeveploment scheme
  • 7/7

स्‍टेशन में एक ग्रीन बिल्डिंग होगी. जिसमें नेचुरल लाइट की व्यवस्था की गई है. साथ ही इस इमारत में ऊर्जा की कम खपत करने वाली एलईडी लाइट्स लगाई जाएंगी. इसके अलावा प्लेटफॉर्म नंबर 6 के बाहर पैदल यात्रियों के लिए टेंसिल फाइबर फैब्रिक मैटेरियल का उपयोग किया जा रहा है. ये टेंसिल फाइबर सामग्री काफी कम वजन और रखरखाव में सुविधाजनक रहती है. इस फाइबर को रिसाइकिल करके पुनः उपयोग में ला सकते हैं.

(सभी फोटो- Twitter @cbdhage)