scorecardresearch
 

शाहरुख, आमिर और आजम, तीन खानों ने खराब की देश की छवि: साध्वी प्राची

साध्वी प्राची ने कहा कि कथित असहिष्णुता को लेकर खड़ा किया गया सारा अभियान देश को बदनाम करने की साजिश है. कुछ ‘देशद्रोही’ पुरस्कार लौटाकर ऐसा करने पर आमादा हैं.

देश में कथित बढ़ती असहिष्णुता संबंधी बयान देने को लेकर मंगलवार को विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने अभिनेता शाहरुख खान, आमिर खान और समाजवादी पार्टी के नेता आजम खान पर देश की छवि खराब करने का आरोप लगाया.

उन्होंने कहा कि कथित असहिष्णुता को लेकर खड़ा किया गया सारा अभियान देश को बदनाम करने की साजिश है. कुछ ‘देशद्रोही’ पुरस्कार लौटाकर ऐसा करने पर आमादा हैं.

'हिंदू कभी दंगा शुरू नहीं करते'
जमशेदपुर में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान साध्वी ने कहा, ‘शाहरुख खान, आमिर खान और आजम खान असहिष्णुता पर अपने बयानों से देश की छवि खराब कर रहे हैं. वह कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ मिलकर ऐसा कर रहे हैं.’ दादरी घटना के संदर्भ में उन्होंने कहा कि हिंदू कभी भी कहीं भी दंगा शुरू नहीं करते, लेकिन कुछ लोग जानबूझकर गोहत्या कर और बीफ पार्टियां आयोजित कर उन्हें उकसाते हैं जिसे हिंदू समुदाय सहन नहीं करेगा.

'मोदी के कार्यकाल में बनेगा राम मंदिर'
साध्वी ने हैरत जताते हुए कहा कि क्यों उत्तर प्रदेश सरकार मामले की जांच सीबीआई से करवाने की सिफारिश नहीं करती. ‘सीबीआई को जांच करने दीजिए, सच सामने आ जाएगा.’ अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर उन्होंने कहा कि उस स्थान पर राम मंदिर का निर्माण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में ही होगा.

'पर्दे से बाहर आएं मुस्लिम महिलाएं'
AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की ओर से हज सब्सिडी रद्द करने और कोष को बतौर छात्रवृत्ति मुस्लिम छात्राओं को वितरित करने संबंधी मांग के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि वह इस मांग का समर्थन करती हैं. उन्होंने कहा कि मुस्लिम महिलाओं को पर्दे से बाहर आना चाहिए और आजादी का आनंद लेना चाहिए.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें