scorecardresearch
 

रांची: DSP ने लड़की को किताबें देकर की मदद

आमतौर पर कानून व्यवस्था की कमान संभालने वाले को सख्त समझा जाता है. लेकिन उनके अंदर भी जज्बात होते हैं. एक ऐसी ही मिसाल पेश की है, रांची के आईपीएस पुलिस अधिकारी विकास चंद्र श्रीवास्तव ने. जो फिलहाल रांची के सदर में डीएसपी के पद पर तैनात हैं.

रांची के DSP विकास चंद्र श्रीवास्तव रांची के DSP विकास चंद्र श्रीवास्तव

आमतौर पर कानून व्यवस्था की कमान संभालने वाले को सख्त समझा जाता है. लेकिन उनके अंदर भी जज्बात होते हैं. एक ऐसी ही मिसाल पेश की है रांची के आईपीएस पुलिस अधिकारी विकास चंद्र श्रीवास्तव ने. जो फिलहाल रांची के सदर में डीएसपी के पद पर तैनात हैं.

डीएसपी ने 11वीं क्लास की स्टूडेंट को किताबें देकर की मदद
कुछ दिनों पहले मुख्यमंत्री की जनता दरबार में एक 11वीं क्लास की छात्रा निशु सिंह ने पढ़ाई के लिए सरकार से मदद की गुहार लगाई थी. इस बात का पता लगते ही निशु की मदद के लिए इस आईपीएस अधिकारी ने उसके लिए किताबें खरीदीं और उसके घर पहुंचाने गए. आईपीएस अधिकारी के हाथों में किताब देख निशु हैरान रहे गई. हालांकि वो उसके घर पर सिविल ड्रेस में थे. इसके अलावा आईपीएस विकास चंद्र श्रीवास्तव ने निशु को पढाई लिखाई के कुछ टिप्स भी दिए और आगे मदद का भी वादा किया. डीएसपी काफी देर तक निशु के घर पर रहे और परीक्षा की तैयारी कैसे की जाती हैं, कौन-कौन सी किताबें पढ़नी चाहिए. इसके बार में उसे विस्तार से बताया, निशु का सपना भी आईपीएस अधिकारी बनने का है.

निशु के घर की आर्थिक हालात हैं खराब
निशु के पिता ड्राइवर हैं और उसकी मां किडनी की बीमारी से जंग लड़ रही है. तीन बहनों और एक भाई में निशु सबसे छोटी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें