scorecardresearch
 

चाईबासा : गर्भवती को गोद में लेकर 1 किमी चलीं महिलाएं, विधायक बोले- यह राजनीतिक साजिश

पश्चिम सिंहभूम जिले के मझगांव विधायक निरल पूर्ति ने गर्भवती को महिलाओं द्वारा गोद में लेकर किलोमीटर दूर एंबुलेंस तक ले जाने के मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी सफाई दी है. उन्होंने कहा कि राजनीतिक षड्यंत्र के तहत वीडियो को वायरल किया गया है.

मझगांव विधायक निरल पूर्ति मझगांव विधायक निरल पूर्ति
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गर्भवती को गोद में ले जाने का वीडियो हुआ वायरल
  • विधायक बोले- हर गांव में सड़क बनाना संभव नहीं

झारखंड के चाईबासा में गर्भवती को महिलाओं द्वारा गोद में लेकर एंबुलेंस तक पहुंचाने का मामला सामने आया है. इस वीडियो को मझगांव से सत्ताधारी पार्टी JMM के विधायक ने राजनीतिक षड्यंत्र करार दिया. दरअसल, यह मामला मझगांव विधानसभा क्षेत्र में आता है. ऐसे में वीडियो वायरल होने के बाद विधायक निरल पूर्ति ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सफाई दी. 
 
पश्चिम सिंहभूम जिले के मझगांव विधायक निरल पूर्ति ने गर्भवती को महिलाओं द्वारा गोद में लेकर किलोमीटर दूर एंबुलेंस तक ले जाने के मामले में प्रेस कॉन्फ्रेंस कर अपनी सफाई दी है. उन्होंने कहा कि राजनीतिक षड्यंत्र के तहत वीडियो को वायरल किया गया है. 

'गांव गांव तक सड़क बनाना संभव नहीं'

विधायक ने कहा कि सरकार अपना दो वर्ष का बजट भी अगर पश्चिम सिंहभूम में खर्च करें तो यहां गांव-गांव में सड़क बनाना संभव नहीं है, क्योंकि जिले में कई ऐसे दुर्गम क्षेत्र हैं, जहां पहुंचना मुश्किल है. सड़क बनाने के लिए वन विभाग से अनापत्ति प्राप्त करने और सड़क निर्माण करवाने में सालों लग जाते हैं.

विधायक ने चालक पर थोपी गलती

विधायक निरल पूर्ति ने कहा कि चालक की गलती से उस सड़क पर महिला को ले जाया गया, जबकि उस गांव में सड़क है. जिस सड़क से महिला को ले जाया गया है, बरसात के बाद उस सड़क को बनवाने के लिए पहल की जाएगी. विधायक ने कहा-'जिस सड़क का जिक्र किया गया है, उस गांव में 9 परिवार रहते हैं जिसका उन्होंने खुद निरीक्षण किया. उस गांव से मुख्य सड़क तक आने के लिए पहुंच पथ होने के बावजूद महिला को दूसरे सड़क से ले जाया गया जो कि काफी दुखद है.

विधायक ने कहा,  उनके संज्ञान में यह मामला आने के बाद उस सड़क को बनाने का निर्णय उन्होंने लिया है. बरसात के बाद जल्द ही इस सड़क के निर्माण को पूरा करा लिया जाएगा. कुछ दिनों पहले ही उस क्षेत्र में 49 लाख की लागत से पुल का निर्माण कराया गया था और चालक की गलती के कारण यह ऐसा हुआ है' 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें