scorecardresearch
 

पूर्वी सिंहभूमः CM रघुवर दास और मंत्री सरयू राय की VVIP सीट, क्या इस बार फिर आएगी भाजपा?

पूर्वी सिंहभूम में 6 विधानसभा क्षेत्र हैं. ये हैं - बहरागोड़ा, घाटशिला, पोटका, जुगसलाई, जमशेदपुर पूर्व और जमशेदपुर पश्चिम. जमशेदपुर पूर्व से लगातार तीन बार से भाजपा के रघुवर दास ही विधायक हैं. रघुवर दास ही झारखंड के मुख्यमंत्री भी है.

पूर्वी जमशेदपुर के विधायक रघुवर दास और पश्चिमी जमशेदपुर के विधायक सरयू राय. पूर्वी जमशेदपुर के विधायक रघुवर दास और पश्चिमी जमशेदपुर के विधायक सरयू राय.

  • सीएम रघुवर दास और दमदार मंत्री सरयू राय की सीट
  • टाटा कंपनी की वजह से विकसित हुआ जमशेदपुर

पूर्वी सिंहभूम जिसे ज्यादातर लोग जमशेदपुर या टाटा नगर के नाम से जानते हैं. ये जिला झारखंड दक्षिणपूर्व कोने में स्थित है. 16 जनवरी 1990 को इसे पुराने सिंहभूम से 9 ब्लॉक अलग कर नया जिला घोषित किया गया. जिले के 53 फीसदी क्षेत्रफल में पहाड़ियां और जंगल हैं. ग्रेनाइट, शैल आदि का पहाड़ियां हैं. दलमा के जंगल पश्चिम, पूर्व और उत्तर की तरफ फैले हुए हैं. दक्षिण-पूर्व दिशा में स्वर्णरेखा नदी बहती है. जिले में 231 पंचायत और करीब 1810 गांव हैं. यहां काफी मात्रा में खनिज भी पाया जाता है. इनमें प्रमुख हैं - लौह अयस्क, कॉपर, यूरेनियम, गोल्ड, किनाइट आदि.

जमशेदपुर यानी टाटा नगर जिसे टाटा कंपनी के संस्थापक जमशेदजी टाटा ने स्थापित किया था. इसके बाद ये शहर देश और दुनिया के बेहतरीन औद्योगिक शहरों में से एक है. टाटा में काम करने वालों की वजह से यहां देश की सभी भाषाओं और बोलियों को बोलने वाले लोग रहते हैं. पूर्वी सिंहभूम को सोनार सिंहभूम या स्वर्ण सिंहभूम के रूप में भी जाना जाता है.

पूर्वी सिंहभूम की राजनीतिः झारखंड के सीएम और दिग्गज कैबिनेट मंत्री की सीट

पूर्वी सिंहभूम में 6 विधानसभा क्षेत्र हैं. ये हैं - बहरागोड़ा, घाटशिला, पोटका, जुगसलाई, जमशेदपुर पूर्व और जमशेदपुर पश्चिम. जमशेदपुर पूर्व से लगातार तीन बार से भाजपा के रघुवर दास ही विधायक हैं. रघुवर दास ही झारखंड के मुख्यमंत्री भी है. पिछले चुनाव में कांग्रेस के आनंद बिहारी दुबे को रघुवर ने 70157 वोटों से हराया था. रघुवर दास 1995 में पहली बार विधायक बने थे. तब से वे लगातार पांचवीं बार विधायक चुने गए हैं. वहीं, जमशेदपुर पश्चिम से सरयू राय विधायक हैं. सरयू राय वर्तमान झारखंड सरकार में मंत्री भी हैं और सरकार में रहते हुए सरकार के सबसे बड़े आलोचक भी. सरयू राय ने 2014 में कांग्रेस के बन्ना गुप्ता को 10517 वोटों से हराया था. सरयू राय ने पशुपालन घोटाले का भंडाफोड़ किया था. जिसकी वजह से आज राजद प्रमुख लालू यादव समेत कई नेता और अधिकारी जेल में बंद हैं. सरयू राय ने ही संयुक्त बिहार में अलकतरा घोटाले का खुलासा किया था.

पूर्वी सिंहभूम की आबादी 22.93 लाख, साक्षरता दर 75.49 फीसदी

2011 की जनगणना के अनुसार पूर्वी सिंहभूम की आबादी 2,293,919 है. इनमें से 1,176,902 पुरुष और 1,117,017 महिलाएं हैं. जिले की 55.6 फीसदी आबादी शहरी और 44.4 फीसदी ग्रामीण इलाकों में रहती है. जिले का औसत लिंगानुपात 949 है. जबकि साक्षरता दर 75.49 प्रतिशत है. पुरुषों में शिक्षा दर 72.78 फीसदी और महिलाओं में 58.3 फीसदी है.

पूर्वी सिंहभूम की जातिगत गणित

  • अनुसूचित जातिः 111,414
  • अनुसूचित जनजातिः 653,923
जानिए...पूर्वी सिंहभूम में किस धर्म के कितने लोग रहते हैं
  • हिंदूः 1,550,178
  • मुस्लिमः 203,999
  • ईसाईः 30,172
  • सिखः 38,544
  • बौद्धः 892
  • जैनः 1,670
  • अन्य धर्मः 465,367
  • जिन्होंने धर्म नहीं बतायाः 3,097
पूर्वी सिंहभूम में कामगारों की स्थिति

पूर्वी सिंहभूम की कुल आबादी में से 837,167 किसी न किसी तरह के रोजगार में लगे हुए हैं. इनमें से 63.3 फीसदी या तो स्थाई रोजगार में हैं या साल में 6 महीने से ज्यादा कमाई करते हैं.

  • मुख्य कामगारः 529,578
  • किसानः 49,893
  • कृषि मजदूरः 39,661
  • घरेलू उद्योगः 12,926
  • अन्य कामगारः 427,098
  • सीमांत कामगारः 307,589
  • जो काम नहीं करतेः 1,456,752
पूर्वी सिंहभूम का पर्यटन, धार्मिक और सांस्कृतिक विरासत

यहां सबसे बड़े आकर्षण के केंद्र हैं डिमना झील, जुबली पार्क और दलमा फॉरेस्ट रिजर्व. डिमना झील का निर्माण टाटा कंपनी ने किया है. नवंबर से फरवरी तक यहां पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है. जुबली पार्क जमशेदपुर में स्थित है. पिकनिक के लिए यह बेहतरीन स्थान है. इसे भी टाटा कंपनी ने विकसित किया है. इसके अलावा है दलमा वन्य जीव अभयारण्य. दलमा के जंगलों में हाथियों की बहुतायत है. जंगल दलमा पहाड़ी के चारों तरफ स्थित है. पहाड़ी के ऊपर एक शिव मंदिर है. पहाड़ी के ऊपर से पूरे शहर का नजारा बेहद खूबसूरत दिखता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें