scorecardresearch
 

J-K में आयुष्मान योजना लॉन्च, पीएम मोदी का तंज- बस बंगाल में लाभ मिलना मुश्किल...

जम्मू-कश्मीर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ी सौगात दी. पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर में केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना लॉन्च की. इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह गुवाहाटी से वीडियो लिंक से जुड़े

पीएम मोदी पीएम मोदी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जम्मू-कश्मीर में पीएम मोदी ने लॉन्च की आयुष्मान भारत योजना
  • डीडीसी चुनाव के बाद अब जम्मू-कश्मीर को एक और सौगात

जम्मू-कश्मीर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को बड़ी सौगात दी. पीएम मोदी ने जम्मू-कश्मीर में केंद्र सरकार की आयुष्मान भारत योजना लॉन्च की. इस मौके पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह गुवाहाटी से वीडियो लिंक से जुड़े. वहीं केंद्र शासित प्रदेश के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा भी मौजूद रहे. लॉन्चिंग के बाद पीएम मोदी ने लाभार्थियों से बात की और कहा, आज जम्मू-कश्मीर के लिए ऐतिहासिक दिन है. आज से जम्मू-कश्मीर के लोग आयुष्मान भारत योजना का लाभ उठा सकते हैं.

उन्होंने इस मौके पर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए कहा कि  वे जम्मू-कश्मीर को बहुत पसंद करते थे. उन्होंने इंसानियत, जम्हूरियत और कश्मीरियत जैसे नारों से हमें प्रेरणा दी. पीएम मोदी ने कहा, जम्मू-कश्मीर प्रशासन ने लोगों का विश्वास मजबूत किया है. यहां पारदर्शी चुनाव कराना गर्व की बात है. 

बापू का सपना पूरा किया: PM

पीएम मोदी ने आगे कहा, महात्मा गांधी ने ग्राम स्वराज का नारा दिया था. हमने उनके सपने को पूरा किया. उन्होंने कहा, हम जम्मू-कश्मीर में सरकार का हिस्सा (पीडीपी के साथ गठबंधन) थे. लेकिन हमने उस सरकार का साथ छोड़ दिया क्योंकि हम पंचायती राज की संस्थाओं को मजबूत करना चाहते थे. हम चाहते थे कि पंचायती राज संस्थानों के लिए चुनाव हों. हमने जनता के लिए कुर्सी छोड़ी.

'पुडुचेरी में नहीं करा सके पंचायत चुनाव'

पीएम मोदी ने आगे कहा, दिल्ली में कई लोग हैं, जो मुझे कोसते हैं, मेरे खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करते हैं, वो देखें कि जम्मू-कश्मीर में सफलतापूर्वक चुनाव हो चुके हैं. जो लोग मुझे लोकतंत्र पर भाषण देते हैं, उन्हें याद रखना चाहिए कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी पुडुचेरी में पंचायत चुनाव नहीं हुए हैं. जम्मू-कश्मीर में प्रशासन की उपलब्धियां गिनाते हुए पीएम ने यह भी कहा कि बस आयुष्मान भारत योजना का लाभ मिलना बंगाल में मुश्किल है. 

शाह बोले-नए युग की शुरुआत

इस मौके पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के हर शख्स को इस योजना का लाभ मिलेगा. हर कश्मीरी इस योजना का लाभ ले पाएगा. इसके लिए 229 सरकारी अस्पताल और 35 प्राइवेट अस्पताल सूचीबद्ध किए गए हैं. उन्होंने एलजी मनोज सिन्हा को श्रेय देते हुए कहा कि पीएम मोदी हमेशा कहते हैं कि विकास जमीनी स्तर तक पहुंचना चाहिए.

हाल ही में हुए डीडीसी चुनावों पर शाह ने कहा कि डीडीसी चुनाव में एक बूंद खून नहीं बहा. शांतिपूर्ण और पारदर्शिता से चुनाव हुआ. शाह ने कहा, डीडीसी चुनावों के बाद विकास गांव तक, घर तक पहुंच पाएगा. केंद्र सरकार से पैसा अब जम्मू-कश्मीर सरकार की जगह जिला विकास परिषद् के पास जाएगा, जिससे वो इलाके के विकास का खाका तैयार करके काम करेंगे. उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर में पहली बार विकास ने रफ्तार पकड़ी है और वह शांति का अनुभव कर रहा है.

देखें: आजतक लाइव टीवी

लोगों को क्या फायदा होगा?

ये योजना जम्मू-कश्मीर के सभी निवासियों को मुफ्त बीमा की सुविधा मुहैया कराएगी. इसमें एक परिवार के लिए 5 लाख रुपए का बीमा कवर दिया जाएगा. ये योजना प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के साथ काम करेगी. इस योजना की खासियत ये है कि इसकी सुविधाओं को देश के किसी भी हिस्से में पोर्टेबल किया जा सकता है. जो भी हॉस्पिटल प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना (PM-JAY) के तहत आते हैं वे सभी हॉस्पिटल इस योजना के तहत भी आएंगे. जम्मू कश्मीर की जनता ऐसे किसी भी अस्पताल में अपना इलाज करवा सकेगी.

लॉन्चिंग से पहले केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने कहा कि हम जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए प्रतिबद्ध हैं और कई योजनाएं चल रही हैं. जम्मू-कश्मीर हिंसा से मुक्त हुआ है. उपराज्यपाल ने कहा कि पीएम मोदी ने शुक्रवार को किसानों की मदद के लिए किसान सम्मान निधि योजना की अन्य किस्त जारी की. काफी समय बाद जम्मू-कश्मीर में बिना कोई हिंसा के कोई चुनाव हुआ. एलजी मनोज सिन्हा ने कहा, 28 दिसंबर को नवनिर्वाचित डीडीसी सदस्य शपथ लेंगे. जम्मू देश का इकलौता शहर है, जहां आईआईएम, आईआईटी और आईआईएमसी हैं. उन्होंने कहा कि 2 एम्स जम्मू-कश्मीर को आवंटित हुए हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें