scorecardresearch
 

महबूबा के तिरंगा न थामने के बयान पर बोले जी किशन रेड्डी- राज जाने से हो रहे परेशान

केंद्रीय गृह राज्य बोले, ये वे लोग हैं जो कश्मीर में शासन नहीं राज करते थे. प्रदेश में सिर्फ भ्रष्टाचार चलता रहा. इसी वजह से ये लोग अब परेशान हो रहे हैं.  

महबूबा मुफ्ती के बयान पर मचा बवाल (फाइल फोटो) महबूबा मुफ्ती के बयान पर मचा बवाल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • महबूबा के बयान पर सियासी बवाल
  • अब केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने किया हमला
  • रेड्डी बोले, भ्रष्टाचार खत्म होने से परेशान हैं लोग

पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती के तिरंगा न थामने के बयान को लेकर अब सियासी हमला तेज हो गया है. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री जी किशन रेड्डी ने महबूबा मुफ्ती के बयान पर हमला बोलते हुए कहा है कि जम्मू-कश्मीर में परिवार राज और भ्रष्टाचार खत्म होने से कुछ लोग बेहद परेशान हो गए हैं. इसी परेशानी में वो अनाप-शनाप बयान दे रहे हैं. जम्मू कश्मीर के एक नेता बोलते हैं कि हम चीन के समर्थन से जम्मू कश्मीर में आर्टिकल 370 लाएंगे. दूसरा नेता बोलता है कि हम भारत का तिरंगा झंडा नहीं फहराएंगे. यह लोग पूरी तरह से असंतुलित हो गए हैं. 

उन्होंने कहा कि ये वे लोग हैं जो कश्मीर में शासन नहीं राज करते थे. प्रदेश को मिलने वाले लाखों-करोड़ों रुपये जनता को मिला ही नहीं. इसी वजह से प्रदेश का विकास नहीं हुआ. सिर्फ भ्रष्टाचार चलता रहा. इसी वजह से ये लोग अब परेशान हो रहे हैं.  

जम्मू कश्मीर बीजेपी ने शुक्रवार को पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती के 'देशद्रोही' बयान के लिए उनकी गिरफ्तारी की मांग की. पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने शुक्रवार को कहा था कि जब तक जम्मू-कश्मीर को लेकर पिछले साल पांच अगस्त को संविधान में किए गए बदलावों को वापस नहीं ले लिया जाता, तब तक उन्हें चुनाव लड़ने और तिरंगा थामने में कोई दिलचस्पी नहीं है. मुफ्ती ने यह भी कहा था कि वह तिरंगा झंडा तभी थामेंगी, जब जम्मू कश्मीर को पूर्ववर्ती राज्य का झंडा वापस मिल जाएगा.

ITBP के 59वें स्थापना दिवस पर बोले जी किशन रेड्डी 

वहीं भारतीय तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) के 59वें स्थापना दिवस के मौके पर बोलते हुए केंद्रीय गृह राज्य मंत्री ने कहा कि कुछ विदेशी सेनाओं को ये भ्रम था कि वो दुनिया की सबसे ताकतवर फोर्स है, लेकिन आईटीबीपी ने उनका भ्रम तोड़ दिया है.  आईटीबीपी, देश की सुरक्षा करने के लिए सीमा पर डटी रही है. इसके लिए मैं उनका धन्यवाद करता हूं. 

उन्होंने कहा कि आईटीबीपी के शहीदों को नमन करता हूं, जिन्होंने देश के लिए बलिदान दिया है. आईटीबीपी का गौरवशाली इतिहास है. वे देश के हिमालयन सीमा की रक्षा कर रहे हैं. विषम परिस्थितियों में भी ये लोग ऊंचे मनोबल से देश की सुरक्षा कर रहे हैं. हमें उनकी वीरता पर गर्व है. 

जी किशन रेड्डी ने आगे कहा, ''मुझे ये बताते हुए गर्व है कि गृह मंत्रालय ने ITBP की 47 अतिरिक्त बॉर्डर आउटपोस्ट (BOP) बनाने की मंजूरी दी. पिछले एक सालों में ITBP को 28 प्रकार के हाई एल्टीट्यूड वाहन दिए गए हैं. सरकार की तरफ से ITBP के लिए फंड में किसी तरह की कमी नहीं आने दी जाएगी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें