scorecardresearch
 

रिहा होते ही आर्टिकल 370 के खिलाफ एक्टिव हुईं महबूबा मुफ्ती!

कश्मीर की सियासी पार्टियां अनुच्छेद-370 के कवच की आड़ में सालों से सियासी रोटियां सेंकते रहे हैं. 5 अगस्त को मोदी सरकार ने वो रास्ता बंद कर दिया. नजरबंदी में इन नेताओं की चली नहीं. लेकिन आजाद होते ही गुपकर घोषणा के कागजात बाहर निकाल लाए हैं और अब तो खुलकर लामबंदी भी होने लगी है. आज शाम 4 बजे फारूक अब्दुल्ला के गुपकर वाले बंगले पर कश्मीर के नेताओं की बैठक हो रही है. देखिए ये रिपोर्ट.

Fourteen months after she was arrested, former Chief Minister of Jammu and Kashmir Mehbooba Mufti was released Tuesday night after the Jammu Kashmir government revoked her detention under the Public Safety Act. With former chief minister Mehbooba Mufti’s release, all politicians of JK are expected to join the meeting to discuss the Gupkar Declaration. Watch this report.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें