scorecardresearch
 

LoC पर भारत-पाक के बीच संघर्ष, महबूबा मुफ्ती ने दिलाई वाजपेयी और मुशर्रफ की याद

भारत की जवाबी कार्रवाई से जहां पाकिस्तान तिलमिलाया हुआ है वहीं जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस घटना पर प्रतिक्रिया दी है. महबूबा मुफ्ती ने अटल बिहारी वाजपेयी और परवेज मुशर्रफ का जिक्र करते हुए फिर से सीजफायर का मसला उठाया है.

महबूबा मुफ्ती महबूबा मुफ्ती
स्टोरी हाइलाइट्स
  • LoC के दोनों तरफ हुए हताहत से हुआ दुख: मुफ्ती
  • पाकिस्तान की तरफ से किया गया सीजफायर उल्लंघन
  • आतंकी घुसपैठ कराना चाहता था पाकिस्तान

एलओसी पर शुक्रवार को पाकिस्तान की तरफ से सीजफायर उल्लंघन किया गया. जिसके बाद भारत की तरफ से की गई जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तानी के जवानों को ढेर कर दिया गया. भारत की जवाबी कार्रवाई से जहां पाकिस्तान तिलमिलाया हुआ है वहीं जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने इस घटना पर प्रतिक्रिया दी है.

महबूबा मुफ्ती ने कहा कि LoC के दोनों तरफ हुए हताहत से दुख हुआ. भारतीय और पाकिस्तानी नेतृत्व अपनी राजनीतिक मजबूरियों से ऊपर उठकर बातचीत शुरू कर सकते हैं. वाजपेयी जी और मुशर्रफ साहब द्वारा लागू किए गए युद्ध विराम को फिर से शुरू करने के लिए ये अच्छा मौका है.

देखें: आजकर लाइव टीवी

दरअसल, दिवाली से पहले पाकिस्तान एलओसी के रास्ते आतंकियों की भारी घुसपैठ कराना चाहता है. इसी मकसद से शुक्रवार को पाकिस्तान की तरफ से भारत के कई सेक्टरों में सीजफायर का उल्लंघन किया गया. इस दौरान गोलीबारी में भारत के चार जवान और एक बीएसएफ एसआई शहीद हो गए.

जवानों की शहादत पर भारत ने करारा जवाब दिया. भारतीय सैनिकों ने पाकिस्तान के लॉन्च पैड्स और बंकर उड़ा दिए. इस जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के 11 सैनिकों की मौत हुई, जबकि कई घायल हो गए. भारत के करारे जवाब से पाकिस्तान इतना घबरा गया कि भारतीय राजदूत को तलब कर लिया. दूसरी तरफ आज भारत ने भी पाकिस्तान के उच्चायुक्त को तलब किया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें