scorecardresearch
 

JK: बीजेपी-पीडीपी गठबंधन तय, लेकिन सब कुछ 'ठीक ठाक' नहीं

भले ही खबरें आई हों कि जम्मू कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी गठबंधन की सरकार बनेगी लेकिन अभी भी दोनों पार्टियों के बीच सब कुछ ठीक ठाक नहीं है.

X
मुफ्ती और मोदी
मुफ्ती और मोदी

भले ही खबरें आई हों कि जम्मू कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी गठबंधन की सरकार बनेगी, लेकिन अभी भी दोनों पार्टियों के बीच सब कुछ ठीक ठाक नहीं है. पीडीपी संरक्षक मुफ्ती मोहम्मद सईद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की संभावित मुलाकात गुरुवार को टलने से ऐसी अटकलें पैदा हुई हैं कि जम्मू-कश्मीर में गठबंधन सरकार बनाने के आधार बन रहे प्रमुख मुद्दों को लेकर दोनों पार्टियों के बीच आखिरी पलों में कुछ अड़चनें आ गई हैं.

'पीडीपी-बीजेपी में बड़े मुद्दों पर सहमति'
पीडीपी सूत्रों ने कहा कि जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले संविधान के अनुच्छेद 370, सशस्त्र बल विशेषाधिकार कानून (AFSPA) और पश्चिम पाकिस्तान से आकर बसे शरणार्थियों को राज्य का स्थायी निवासी होने का दर्जा देने सहित सभी मुद्दों पर दोनों पार्टियों के बीच पूरी सहमति बनी है और नई सरकार 1 मार्च को शपथ-ग्रहण कर सकती है. मुफ्ती मोहम्मद सईद पूरे छह साल के कार्यकाल के लिए मुख्यमंत्री बनेंगे.

'मोदी-मुफ्ती की मुलाकात के बाद सरकार गठन की तारीख का ऐलान'
विपक्षी पार्टियां नेशनल कांफ्रेंस और कांग्रेस ने कहा कि पीडीपी और बीजेपी गठबंधन सरकार के गठन लिए बातचीत को हफ्तों खींच रही हैं जबकि दोनों पार्टियां पहले ही आम सहमति बना चुकी हैं और राज्य के लोगों को बेवकूफ बना रही है. पीडीपी संरक्षक और प्रधानमंत्री की मुलाकात अब शुक्रवार सुबह होगी, जिसके बाद सरकार गठन की तारीख का ऐलान हो सकता है. जम्मू-कश्मीर विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के करीब दो महीने बाद यह मुलाकात होगी.

मोदी को शपथ ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित करेंगे मुफ्ती
मोदी और 79 साल के सईद की मुलाकात में शासन चलाने के लिए तैयार किए गए एक विस्तृत दस्तावेज को अंतिम रूप दिया जा सकता है और उसके बाद इसे दोनों पार्टियों द्वारा राज्य में जारी किया जाएगा. जम्मू में शपथ-ग्रहण के लिए दोनों पार्टियां 1 मार्च को शुभ दिन मान रही हैं, लेकिन पीडीपी के मुख्य प्रवक्ता नईम अख्तर ने कहा, 'पीडीपी संरक्षक और प्रधानमंत्री के बीच मुलाकात के बाद ही शपथ-ग्रहण पर अंतिम निर्णय होगा.' मुलाकात के दौरान सईद मोदी को शपथ-ग्रहण समारोह के लिए आमंत्रित कर सकते हैं. ऐसा पहली बार है कि बीजेपी इस संवेदनशील राज्य की सरकार में शामिल होगी.

'अमित और महबूबा की मुलाकात'
सईद और मोदी की मुलाकात से पहले दोनों पार्टियां शुक्रवार को कैबिनेट के स्वरूप को अंतिम रूप देने के लिए बैठक कर सकती हैं. बीजेपी नेता निर्मल सिंह को उप-मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है. सईद के पास गृह विभाग का भी प्रभार रहेगा और पीडीपी के नवनिर्वाचित विधायक हसीब द्राबू नए वित्त मंत्री हो सकते हैं. दोनों पार्टियों के अध्यक्ष - पीडीपी की महबूबा मुफ्ती और बीजेपी के अमित शाह - ने बुधवार को मुलाकात की थी, जिसके बाद उन्होंने राज्य में गठबंधन सरकार के गठन की घोषणा की थी.

शाह ने बैठक के बाद ट्वीट कर कहा था कि सुशासन और विकास सुनिश्चित कर बीजेपी-पीडीपी की सरकार जम्मू-कश्मीर को नई ऊंचाइयों तक ले जाएगी. बीते 23 दिसंबर को आए चुनाव नतीजों में खंडित जनादेश आया था. पीडीपी 28 सीटों के साथ सबसे बड़ी पार्टी बनी थी जबकि बीजेपी को 25 सीटें मिली थी. नेशनल कांफ्रेंस को 15 और कांग्रेस को 12 सीटों से संतोष करना पड़ा था.

इनपुट भाषा से

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें