scorecardresearch
 

यासीन मलिक पर फैसले से पहले श्रीनगर में पथराव, इंटरनेट बंद किया गया

अलगाववादी नेता यासीन मलिक को दिल्ली की एनआईए कोर्ट से सजा सुनाए जाने से ठीक पहले घाटी का माहौल खराब करने की कोशिश की गई है. यहां श्रीनगर के मैसूमा इलाके में यासीन मलिक समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हो गई.

X
श्रीनगर में यासीन मलिक के समर्थन में लोग सड़कों पर उतर आए हैं. श्रीनगर में यासीन मलिक के समर्थन में लोग सड़कों पर उतर आए हैं.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • श्रीनगर में यासीन मलिक के घर के बाहर हंगामा
  • सुरक्षाबल पहले से ही अलर्ट था, मौके पर ड्रोन से निगरानी

अलगाववादी नेता यासीन मलिक को दिल्ली की एनआईए कोर्ट में सजा सुनाए जाने से ठीक पहले घाटी का माहौल खराब करने की कोशिश की गई है. यहां श्रीनगर के मैसूमा इलाके में यासीन मलिक समर्थकों और पुलिस के बीच झड़प हो गई. यासीन के समर्थकों ने सुरक्षाबलों पर पथराव कर दिया है. ऐहतियात के तौर पर सुरक्षाबलों ने मोर्चा संभाला और भीड़ पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले दागने शुरू कर दिए हैं.

इधर, प्रशासन ने श्रीनगर में तत्काल प्रभाव से इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं. पथराव की घटना के बाद शहर भी बंद हो गया है. लोग विरोध- प्रदर्शन के लिए सड़कों पर उतर आए हैं.

इससे पहले पुलिस ने यासीन के घर के बाहर सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी थी. यहां ड्रोन से निगरानी की जा रही है. ये पथराव और प्रदर्शन यासीन मलिक के घर के बाहर किया जा रहा है. बता दें कि श्रीनगर के पास मैसूमा में यासीन मलिक का घर है.

जम्मू कश्मीर प्रशासन पहले से ही सतर्क था. मगर बुधवार को यासीन समर्थक सीधे सुरक्षाबलों से भिड़ गए. इससे पहले दिल्ली में यासीन मलिक को कोर्ट में सजा सुनाए जाने के लिए ले जाया गया. वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है.

बता दें कि यासीन को टेरर फंडिंग के मामले में दोषी पाया गया है. यासीन प्रतिबंधित संगठन जम्मू कश्मीर लिबरेशन फ्रंट का चीफ है. यासीन पर भड़काऊ भाषण देने के भी आरोप लगते रहे हैं. यासीन को सजा सुनाए जाने से पहले ही जम्मू कश्मीर में प्रशासन ने सुरक्षा व्यवस्था तगड़ी रखी है. आशंका है कि यासीन की सजा का विरोध देखने को मिल सकता है.

Maisuma

बता दें कि दिल्ली की NIA कोर्ट ने सजा को लेकर फैसला सुरक्षित रख लिया है. बताया जा रहा है कि NIA ने यासीन मलिक को सजा ए मौत देने की मांग की है. सजा के ऐलान से पहले कोर्टरूम के बाहर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है. सुरक्षाकर्मियों के अलावा सादे कपड़ों में भी सुरक्षा कर्मियों की तैनाती की गई है. कोर्टरूम में डॉग स्क्वॉड के जरिए जांच की जा रही है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
; ;