scorecardresearch
 

मसरत केस पर राजनाथ से बात करने के बाद बोले CM मु्फ्ती- कानूनन होगी कार्रवाई

अलगाववादी नेता मसरत आलम के पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने के मामले में कार्रवाई की जाएगी. जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद कहा है कि कानून के मुताबिक मसरत के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. मुफ्ती ने इस बाबत कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं.

X
अलगाववादी नेता मसरत आलम
अलगाववादी नेता मसरत आलम

अलगाववादी नेता मसरत आलम के पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाने के मामले में कार्रवाई की जाएगी. जम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद कहा है कि कानून के मुताबिक मसरत के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. मुफ्ती ने इस बाबत कार्रवाई के निर्देश दे दिए हैं.

इससे पहले केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद से बात की और पाकिस्तान के समर्थन में नारेबाजी करने वाले मसरत आलम पर कार्रवाई की बात की. बुधवार रात सिंह ने सईद से अलगाववादियों की रैली पर बात की.

इससे पहले केंद्रीय राज्य मंत्री किरण रिजिजु ने भी प्रदेश सरकार को मामले में कार्रवाई के लिए कहा.

हमारी सरकार इसे बर्दाश्त नहीं करेगी: निर्मल सिंह
नारेबाजी मामले पर उप मुख्यमंत्री निर्मल सिंह ने कहा, 'हमारी सरकार इस घटना को बर्दाश्त नहीं करेगी.' उन्होंने कहा 'स्थानीय स्थिति' को देखते हुए उचित समय पर मसर्रत आलम के खिलाफ कार्रवाई की बात कही है.

मसरत ने लगाए थे 'मेरी जान- मेरी जान पाकिस्तान' के नारे
अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी और उनके समर्थको ने नई दिल्ली से लौटने पर बुधवार को श्रीनगर में रैली का आयोजन किया. इस रैली में मसरत आलम भी शामिल हुआ. इस दौरान अलगाववादी नेता मसरत आलम ने 'मेरी जान- मेरी जान पाकिस्तान' का नारा लगाया. गिलानी की इस रैली में पाकिस्तानी झंडे भी लहराए गए.

केस दर्ज, कब होगी गिरफ्तारी?
पाकिस्तान झंडा लहराने और भड़काऊ नारे लगाने पर मसरत, गिलानी, बशीर अहमद भट्ट समेत कई लोगों पर केस दर्ज कर लिया गया. बड़गाम पथाने में आईपीसी की धारा 120-B, 147, 341, 336, और 427 के तहत केस दर्ज किया गया है. हालांकि अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

मसरत को पछतावा नहीं, कहा, 'गिरफ्तारी से डर नहीं लगता'
अलगाववादी नेता मसरत आलम को अपनी इस करतूत का कोई अफसोस नहीं. उसने कहा, 'मुझे नारेबाजी पर पछतावा नहीं है. गिरफ्तार करना है तो कर लो, हमें इससे डर नहीं लगता.' हाल ही में जेल से रिहा हुए मसरत ने कहा, 'मेरे खिलाफ कई एफआईआर दर्ज, एक और सही, लेकिन मेरा संघर्ष जारी रहेगा.'

पीडीपी नहीं मानी, तो कुछ भी हो सकता है: जुगल किशोर
जम्मू-कश्मीर बीजेपी अध्यक्ष जुगल किशोर ने मसरत आलम के खिलाफ देशद्रोह का मामला चलाने की मांग की. उन्होंने कहा, 'अगर पीडीपी नहीं मानी तो हम बर्दाश्त नहीं करेंगे, फिर कुछ भी हो सकता है.'

क्या BJP-PDP गठबंधन सरकार में अलगाववादी और कट्टरपंथियों को खुली छूट मिली है?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें