scorecardresearch
 

कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा को लेकर उप राज्यपाल से मुलाकात करेगा BJP प्रतिनिधिमंडल

BJP के प्रदेश अध्यक्ष रविंदर रैना ने कहा कि राहुल भट की हत्या की घटना ने पूरे समाज और जम्मू-कश्मीर को शर्मसार किया है. राहुल समाज की सेवा कर रहे थे. उनकी पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादियों ने बेरहमी से हत्या की है.

X
(File Photo) (File Photo)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष रविंदर रैना ने दी जानकारी
  • कहा- कश्मीर में अल्पसंख्यकों से जुड़े मुद्दे उठाएंगे

जम्मू-कश्मीर में आतंकी घटनाओं को लेकर बीजेपी में भी नाराजगी देखी जा रही है. बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष रविंदर रैना ने कश्मीरी पंडित राहुल भट की हत्या की निंदा की और कहा कि वह बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के साथ रविवार को उप राज्यपाल मनोज सिन्हा से मुलाकात करेंगे और कश्मीरी पंडितों की सुरक्षा के संबंध में चर्चा करेंगे.

रैना ने कहा कि इस घटना ने पूरे समाज और जम्मू-कश्मीर को शर्मसार किया है. राहुल भट समाज की सेवा कर रहे थे. उनकी पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवादियों ने बेरहमी से हत्या की है. उन्होंने आतंकवादियों द्वारा शुक्रवार को कश्मीरी मुस्लिम एसपीओ रियाज अहमद ठाकोर की हत्या पर भी नाराजगी जताई और कहा कि वे (आतंकवादी) अपने घिनौने कृत्यों से यहां शांति और विकास प्रक्रिया को बाधित नहीं कर सकते हैं. ये पूरी तरह कश्मीरियत की हत्या का प्रयास है.

जल्द ही आतंकवादियों का सफाया किया जाएगा

रैना ने कहा कि जो लोग पीएम पैकेज के तहत कश्मीर के विभिन्न क्षेत्रों में काम कर रहे हैं, वे भी इन घटनाओं को लेकर चिंतित हैं और कई प्रतिनिधिमंडलों ने भाजपा के वरिष्ठ नेतृत्व से मुलाकात की है. रैना ने कहा कि इन टारगेटेड मर्डर्स का जम्मू कश्मीर पुलिस और सुरक्षाबल लगातार मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं. जल्द ही आतंकवादियों को सफाया कर दिया जाएगा.

अल्पसंख्यकों के मुद्दे उठाएगी बीजेपी

रैना ने कहा कि मैंने उप राज्यपाल मनोज सिन्हा को सामाजिक, धार्मिक संगठनों की चिंताओं के बारे में जानकारी दी है. उन्होंने आगे कहा कि रविवार को बीजेपी का एक प्रतिनिधिमंडल एलजी सिन्हा से मुलाकात करेगा और कश्मीर में अल्पसंख्यकों की सुरक्षा से जुड़े सभी मुद्दों को उठाएगा. 

सबकी सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी, गृह मंत्री को भी बताया

रैना का कहना था कि हम पीएम पैकेज के तहत काम करने वाले कर्मचारियों की समस्याओं को भी उपराज्यपाल के सामने रखेंगे. उन्होंने कहा कि हमें उन लोगों से भी बात करने की जरूरत है जो आतंकवादियों के हाथों पीड़ित हैं. उनकी उम्मीदों को पूरा करना और उनकी पूर्ण सुरक्षा की व्यवस्था करना हमारी जिम्मेदारी है. हर राष्ट्रवादी समुदाय की सुरक्षा सुनिश्चित करना हमारी जिम्मेदारी है और हम जम्मू-कश्मीर एलजी के समक्ष सभी मुद्दों को जोर देकर उठाएंगे. उन्होंने ये भी बताया कि इस मुद्दे पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के साथ भी चर्चा की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें