scorecardresearch
 

रेलवे कर्मचारियों की शिकायत निपटाने के लिए प्रभु ने लॉन्च किया 'निवारण' पोर्टल

निवारण पोर्टल को लॉन्च करते हुए रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि इस डिजिटल प्लेटफॉर्म से जहां एक तरफ कर्मचारियों की शिकायतों का निदान किया जा सकेगा तो वहीं दूसरी तरफ इस बात का भी पता चलेगा कि किस विभाग में कितनी परेशानियां आ रही हैं.

रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने लॉन्च किया 'निवारण' पोर्टल रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने लॉन्च किया 'निवारण' पोर्टल

डिजिटल इंडिया के मोदी सरकार के सपने को हर तरह से पूरा करने के इरादे से रेलवे ने अपने कर्मचारियों की शिकायतों के निवारण के लिए 'निवारण' पोर्टल की शुरुआत की. इस पोर्टल को रेलवे पीएसयू क्रिस ने डिजाइन किया है.

गुरुवार को निवारण पोर्टल को लॉन्च करते हुए रेलमंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि इस डिजिटल प्लेटफॉर्म से जहां एक तरफ कर्मचारियों की शिकायतों का निदान किया जा सकेगा तो वहीं दूसरी तरफ इस बात का भी पता चलेगा कि किस विभाग में कितनी परेशानियां आ रही हैं.

गुड़गांव रेलवे स्टेशन का नाम बदला जाएगा
इससे पहले रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेल भवन से वीडियो-कॉन्फ्रेंस के जरिए गुड़गांव स्टेशन पर इम्‍प्रूव्ड यात्री सुविधाओं, न्यू डीलक्स शौचालय एरिया का प्रोविजन और न्यू प्लेटफार्म शेल्टर्स आदि में अतिरिक्त स्टेशन परिक्षेत्र के मुख्य प्रवेश द्वार के जरिए स्टेशन में सुधार और न्यू स्टेनलेस स्टील के छोटे प्लेटफार्म शेल्‍टर्स, डस्टबिन के प्रोविजन के अतिरिक्त री-फरबिस्ड प्लेटफार्मों का लोकार्पण किया. इस मौके पर गुड़ग्राम स्टेशन पर फुट ओवर ब्रिज तथा फारुखनगर में ऑटो कार लोडिंग सुविधा के लिए भी शिलान्यास किया. रेलमंत्री ने कहा कि अब गुड़गांव का नाम गुड़ग्राम हो गया है और इसी तर्ज पर रेलवे स्टेशन का नाम भी बदला जाएगा.

गुड़गांव स्टेशन पर आयोजित समारोह के अवसर पर राज्य रक्षामंत्री, राव इन्द्रजीत सिंह, पूर्व मेयर, उमेश अग्रवाल, विधायक पटौदी विमला चौधरी और पूर्व उप मेयर गुड़गांव परमिंदर कटारिया मौजूद रहे.

गुड़गांव रेलवे स्टेशन को आधुनिक स्टेशन में विकसित करने का प्रयास
राजधानी शहर के आस-पास के क्षेत्रों में तेज गति से विकास तथा डेमोग्रेफिक वृद्धि के मद्देनजर उत्तर रेलवे ने इस स्टेशन को आधुनिक स्टेशन में विकसित करने का प्रयास किया है. गुड़गांव रेलवे स्टेशन पर कई यात्री अनुकूल सुविधाएं उपलब्ध कराई हैं जो इस शहर में काफी लोकप्रिय भी हुई हैं. इस स्टेशन का सौन्दर्य बढ़ाने के साथ-साथ यात्रियों की सुविधा के लिए निम्न यात्री सुविधाएं भी उपलब्‍ध कराई गई हैं. इम्प्रूव्ड मेन प्रवेश द्वार, स्ट्रीमलाइन्ड पार्किंग, ट्रैफिक नियंत्रण सिस्टम सहित इम्प्रूव्ड स्टेशन परिक्षेत्र पर 98 लाख रुपये खर्च आया है. स्टेशन प्रवेश द्वार को बहुत ही आकर्षक रूप दिया गया है. स्टेशन परिक्षेत्र में महिलाओं, पुरुषों और विकलांगों के लिए न्यू शौचालय ब्लॉक तथा गुड़गांव में सीएसआर परियोजना के तहत प्लेटफार्मों के सुधार कार्य में मेसर्स राइटस लिमिटेड ने 53 लाख का योगदान दिया है.

दूसरे प्रवेश को उपयोगी बनाने के लिए प्लेटफार्म नंबर 1 से आउट साइड यार्ड तक 4.5 मीटर चौड़ा फुट ओवर ब्रिज का शीघ्र निर्माण नगर निगम गुड़गांव की सहभागीदारी के आधार पर किया जाएगा. जिस पर अनुमानित लागत 4.5 करोड़ रुपये आएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें