scorecardresearch
 

जाट आंदोलन में 2 और लोगों की मौत, संघर्ष समिति ने कहा- आंदोलन खत्म करो

हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) पीके दास ने रविवार को कहा कि जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान भड़की हिंसा में दो और लोगों की मौत हो गई. इस तरह से मरने वालों की संख्या 12 हो गई.

हरियाणा के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी पीके दास हरियाणा के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी पीके दास

हरियाणा में हिंसक रूप अख्ति‍यार कर चुके जाट आंदोलन में जहां रविवार को दो और लोगों की मौत हो गई है, वहीं जाट संघर्ष समिति के नेता जयपाल सिंह ने लोगों से आंदोलन समाप्त करने की अपील की है. जयपाल सिंह का कहना है कि सरकार ने जाटों की मांगें मान ली हैं.

जयपाल सिंह ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद आंदोलन खत्म करने की घोषणा की. इससे पहले राजनाथ सिंह से मुलाकात के बाद हरियाणा बीजेपी के इंचार्ज अनिल जैन ने अगले विधानसभा सत्र में जाटों को आरक्षण देने की घोषणा की, जिसके फौरन बाद जाट संघर्ष समिति के नेता जयपाल सिंह की अपील भी सामने आ गई. जयपाल सिंह ने कहा कि हमारी मांगें मान ली गई हैं.

अब तक 12 लोगों की मौत
दूसरी ओर, हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव (गृह) पीके दास ने रविवार को कहा कि जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान भड़की हिंसा में दो और लोगों की मौत हो गई. इस तरह से मरने वालों की संख्या 12 हो गई और 150 से अधिक लोग घायल हो गए.

उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि सोनीपत में मुनक नहर के निकट अकबरपुर-बारोटा में गोलीबारी से एक व्यक्ति की मौत हो गई, जबकि हांसी में दो समूहों के बीच झड़प में एक व्यक्ति मारा गया. राज्य सरकार के इस वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्रशासन आंदोलनकारियों को अब तक इस बात के लिए मनाने में नाकाम रही है कि वे मुनक नहर से पानी की आपूर्ति बाधित करना खत्म करें.

दास ने कहा कि हांसी में जाटों और गैर-जाटों के बीच झड़प हुई जो चिंता का विषय है, लेकिन इस तरह की घटनाएं कुछ चुनिंदा इलाकों में हो रही हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें